भारत में पुष्ट मामलों की कुल संख्या लगभग 60 लाख पहुंची

2020-09-28 17:06:44
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

मध्य यूरोपीय समय के अनुसार 28 सितंबर को दुनिया भर में पुष्ट मामलों की कुल संख्या बढ़कर 32,949,470 तक हो गई है, जबकि मौत के मामलों की कुल संख्या 996,084 तक जा पहुंची है। पूरे विश्व में अमेरिकी महाद्वीप में महामारी की स्थिति सबसे गंभीर है। वहां पुष्‍ट मामलों की संख्या 7,109,351 है, जबकि मृतकों की कुल संख्या 204,738 है। अमेरिकी जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय ने पूरी दुनिया में महामारी के प्रकोप की स्थिति पर यह रिपोर्ट जारी की।

वहीं भारतीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 27 सितंबर को ताज़ा आंकड़े जारी कर कहा कि भारत में पुष्‍ट मामलों की संख्या 5,992,532 पहुंची (पिछले 24 घंटे में 88,600 नए मामले दर्ज)। इस सितंबर भारत में एक दिन में कोरोना वायरस के नये पुष्ट मामलों की संख्या ने नया रिकॉर्ड तोडा।

वहीं कोलम्बिया के राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान ने 26 सितंबर को रिपोर्ट जारी की कि उसी दिन तक वहां पुष्ट मामलों की कुल संख्या बढ़कर 806,038 तक हो गई है(पिछले 24 घंटे में 7,721 नए मामले दर्ज), जबकि मौत के मामलों की कुल संख्या 25,296 तक जा पहुंची है(मौत के 193 नये मामले)।

पेरू के स्वास्थ्य मंत्रालय ने 26 सितंबर को डेटा जारी किया कि पूरे पेरू में पुष्ट मामलों की कुल संख्या बढ़कर 800,142 तक हो गई है, जबकि मरने वालों की कुल संख्या 32,142 तक जा पहुंची है।

उसी दिन डब्ल्यूएचओ ने पूरी दुनिया में महामारी के प्रकोप की स्थिति पर रिपोर्ट जारी की कि पेरू में पुष्ट मामलों की कुल संख्या दुनिया में अमेरिका, भारत, ब्राजील, रूस और कोलम्बिया के बाद छठे स्थान पर है।

अमेरिकी राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी की प्रभारी मार्सिया केम्पर मैकनेट ने संयुक्त बयान में कहा कि महामारी के दौरान विज्ञान में राजनीतिक हस्तक्षेप “बहुत चिंताजनक” है। विज्ञान और वैज्ञानिकों पर कालिख लगाने वाले सभी व्यवहार लोगों के स्वास्थ्य और भलाई को खतरे में डालते हैं।

(हैया)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories