कोरोनावायरस के बाद आसियान और चीन के बीच के संबंध और करीब होंगे : सिंगापुर के उप प्रधानमंत्री

2020-09-16 11:55:31
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

15 सितंबर को सिंगापुर के गैर-सरकारी संगठन बिजनेस चाइना द्वारा आयोजित भविष्य चीन अंतर्राष्ट्रीय मंच खुला। इस बार यह मंच ऑनलाइन आयोजित किया गया है और तीन दिनों तक चलेगा। सिंगापुर के उप प्रधानमंत्री, आर्थिक नीति समन्वय मंत्री और वित्त मंत्री हेंग स्वे केट ने अपने मुख्य भाषण में कहा कि कोरोना महामारी दुनिया के लिए बड़ी चुनौतियां लेकर आई है, और दुनिया भर के देशों को एक खुली अंतरराष्ट्रीय व्यापार प्रणाली बनाए रखने के लिए हाथ मिलाना चाहिए। उनका मानना है कि महामारी के बाद के युग में, चीन और आसियान देशों के बीच व्यापारिक आदान-प्रदान और करीब हो जाएगा।

हेंग स्वे केट ने कहा कि चीन अपने आर्थिक परिवर्तन को आगे बढ़ा रहा है और 40 वर्षों के सुधार और खुलेपन के बाद सुधारों को बढ़ावा देना जारी रखता है। चीन की अर्थव्यवस्था, जनसंख्या के आकार और देश में मौजूद जटिल समस्याओं को देखते हुए यह आसान नहीं है। लेकिन यह स्पष्ट है कि चीन का मौजूदा चुनौतियों से निपटने का दृढ़ है।

उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के बाद के युग में दुनिया के सभी देशों और अर्थव्यवस्थाओं को परस्पर संबंध बनाए रखना चाहिए और यह सुनिश्चित करना चाहिए कि एक खुला वैश्विक आर्थिक वातावरण बनाना चाहिए, जो सभी देशों को समृद्धि और विकास के लिए मददगार है।

(नीलम)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories