लोगों के जीवन और स्वास्थ्य को प्राथमिकता देने की अपील की चीनी प्रतिनिधि

2020-09-16 11:48:09
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद का 45वां सत्र जिनेवा में आयोजित हो रहा है। 14 और 15 सितंबर को मानवाधिकारों पर कोरोना महामारी के प्रभाव पर एक संवाद आयोजित किया गया।

चीनी प्रतिनिधि ने कहा कि सभी देशों की सरकारों को लोगों के जीवन और स्वास्थ्य को प्राथमिकता देनी चाहिए, प्रभावी रोकथाम और नियंत्रण उपायों को अपनाना चाहिए, महामारी के प्रसार पर पूरी तरह से अंकुश लगाना चाहिए, अर्थव्यवस्था और समाज पर महामारी के प्रभाव को कम करना चाहिए, लोगों के बुनियादी जीवन को सुनिश्चित करना और कमजोर समूहों के अधिकारों की रक्षा करना चाहिए। प्रासंगिक देशों को विकासशील देशों के खिलाफ एकतरफा प्रतिबंधों को तुरंत बंद करना चाहिए। सभी पक्षों को संयुक्त रूप से सार्वजनिक स्वास्थ्य के मुद्दों के राजनीतिकरण का विरोध करना चाहिए। संबंधित पक्षों को नस्लीय भेदभाव और जेनोफोबिया को भड़काने और जानबूझकर विभाजन और टकराव पैदा करने के गलत कदमों को छोड़ देना चाहिए।

चीन के प्रतिनिधि ने कहा कि कोरोना प्रकोप के बाद चीन सरकार ने अपने नागरिकों को प्राथमिकता देकर कड़ी मेहनत से इस जनयुद्ध में जीत हासिल की। चीन ने अंतर्राष्ट्रीय महामारी विरोधी सहयोग में भी सक्रिय रूप से भाग लिया है, और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को सहायता देने और मानव स्वास्थ्य समुदाय के निर्माण को बढ़ावा देने के लिए सभी पक्षों के साथ काम करने की पूरी कोशिश की।

(नीलम)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories