यूएन महासभा ने महामारी के खिलाफ संकल्प पारित किया

2020-09-12 17:30:32
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 11 सितंबर को संकल्प पारित किया और सदस्य देशों से कोविड-19 महामारी के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय सहयोग और आपसी मदद मजबूत करने का आग्रह किया।

संकल्प के अनुसार अंतर्राष्ट्रीय सहयोग का विकास, बहुपक्षवाद का पालन, एकजुटता और आपसी मदद दुनिया में महामारी आदि विश्व संकटों का विरोध करने के लिये एकमात्र रास्ता है। उन्होंने अपील की कि सभी देशों को मानव-उन्मुख, लैंगिक समानता और मानवाधिकारों का सम्मान करने वाले कदम उठाना चाहिये।

यह संकल्प संयुक्त राष्ट्र महासचिव द्वारा प्रस्तावित विश्व युद्धविराम समझौते का समर्थन करता है, साथ ही सशस्त्र संघर्ष क्षेत्रों में महामारी के प्रभाव पर ध्यान देता है और संयुक्त राष्ट्र की शांति रक्षा कार्रवाई का आगे समर्थन करता है।

इस संकल्प के अनुसार सभी सदस्य देशों, राजनीतिक नेताओं और धार्मिक नेताओं को सहनशीलता और एकजुटता को बढ़ाना चाहिये। साथ ही उन्हें जातिवाद, द्वेषपूर्ण भाषण, हिंसा और भेदभाव का विरोध करना चाहिये।

इस संकल्प के मुताबिक सभी सदस्य देशों को स्वास्थ्य प्रणाली और सामाजिक देखभाल प्रणाली को मजबूत करना चाहिये। इसके साथ-साथ उन्हें सभी देशों के उच्च गुणवत्ता, सुरक्षित, प्रभावी और सस्ती नैदानिक उपकरण, उपचार के तरीके, दवाएं और टीके प्राप्त करने के लिये प्रयास करना चाहिये। उन्हें सभी हितधारकों के साथ सहयोग करके संबंधित टीकों और दवाओं की अनुसंधान एवं विकास पूंजी में वृद्धि करनी चाहिये। इसके अलावा उन्हें डिजिटल तकनीक के जरिये महामारी के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय वैज्ञानिक सहयोग को मजबूत करना चाहिये।

इस संकल्प के अनुसार महामारी के प्रत्यक्ष आर्थिक और सामाजिक प्रभाव का सामना करने के लिये महासभा ने सभी सदस्य देशों और अन्य हितधारकों को समन्वित कार्रवाई बढ़ाने का आग्रह किया। साथ ही उन्हें उपयोगी रणनीति बनाने से 2030 सतत विकास एजेंडा को पूरी तरह से लागू करने को बढ़ाना चाहिये।

(हैया)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories