अमेरिकी सरकार को राजनीति के बजाए सुरक्षा को प्राथमिकता देनी चाहिए

2020-09-07 18:39:08
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

हालांकि हाल में अमेरिका ने कोविड-19 के टीके के तीसरे चरण का क्लिनिकल परीक्षण नहीं पूरा किया, फिर भी राष्ट्रपति डोनाल्ट ट्रम्प ने कहा कि टीके इस साल के अंत से पहले बाजार में आ जाएंगे, यहां तक संभवतः अक्तूबर के अंत से पहले बाजार में आ सकेंगे। इस की चर्चा में ह्वाइट हाउस के कोविड-19 टीका प्रॉजेक्ट के प्रथम सलाहकार, मशहूर चिकित्सक पत्रिका 'द लांसेट' के प्रमुख संपादक, अमेरिकी सीडीसी संस्था के प्रभारी समेत अमेरिकी मशहूर चिकित्सक व स्वस्थ क्षेत्र के सूत्रों ने स्पष्ट रूप से कहा कि टीके के इस समय बाजार में प्रवेश करने की बहुत कम संभावना है।

अमेरिका में अमेरिकी राष्ट्रपति के इस रुख का आरोप भी लगाया गया है। अनेक विशेषज्ञों ने कहा कि ट्रम्प ने वैज्ञानिक के आधार पर नहीं, बल्कि राजनीतिक कारण से यह बात कही है। हाल में अमेरिका में कई किस्मों के टीके तीसरे चरण के परिक्षण में प्रवेश कर चुके हैं, फिर भी ह्वाइट हाउस के कोविड-19 टीके प्रॉजेक्ट के प्रमुख सलाहकार मोनसेफ स्लाओउई ने कहा कि अक्तूबर के अंत से पहले टीके के बाजार आने की बहुत कम संभावना है।

मशहूर चिकित्सक पत्रिका 'द लांसेट' के प्रमुख संपादक रिचार्ड होर्टन ने साक्षात्कार में कहा कि अगर टीकों के प्रयोग में जल्दबाजी करते हैं, तो महामारी की रोकथाम को और बड़ी मुसीबतें ला सकेंगे। डब्ल्यूएचओ की प्रेस प्रवक्ता मार्गरेट हारिस ने 4 सितंबर को भी कहा कि अगले साल के मध्यम से पहले कोविड-19 टीकों के बड़े पैमाने पर लगाने की संभावना नहीं है।

हालांकि अनेक चिकित्सक विशेषज्ञों और डब्ल्यूएचओ ने टीके के बाजार में आने की समय तिथि निश्चित नहीं की, तो क्यों अमेरिकी राष्ट्रपति ने टीकों के बाजार में प्रवेश का स्पष्ट समय बताया?

कारण यह है कि 3 नवम्बर को अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनाव का मतदान देना का दिन है। अमेरिकी स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारियों ने हाल में ह्वाइट हाउस से अपील की कोविड-19 के टीकों के बाजार में आने की समय तिथि बनाते समय वह राजनीतिक तत्वों की जगह सुरक्षा पर प्राथमिकता दे।

(श्याओयांग)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories