महामारी की स्थिति बिगड़ने के बीच यूरोप संबंधित उपाय करने में जुटा

2020-08-21 19:16:54
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

यूरोप में कोविड-19 महामारी की स्थिति बिगड़ रही है। यूरोपीय क्षेत्र में विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के प्रभारी हैंस क्रूगर ने 20 अगस्त को संवाददाता सम्मेलन में यह बात कही। लेकिन उन्होंने कहा कि यूरोप में इस फरवरी में दुनिया की तरह अधिक गंभीर महामारी नहीं होगी। सभी देश पहले से और लचीले एवं लक्षित उपाय कर रहे हैं। महामारी के खिलाफ लड़ने के साथ-साथ सभी देश समाज और अर्थव्यवस्था पर नकारात्मक प्रभाव को कम कर रहे हैं।

डब्ल्यूएचओ के आंकड़ों के मुताबिक अब तक पूरे यूरोप में कोविड-19 के पुष्ट मामलों की कुल संख्या बढ़कर लगभग 39 लाख हो गई है, जो दुनिया भर में सभी पुष्ट मामलों करीब 17 प्रतिशत है। हैंस क्रूगर ने कहा कि यूरोप में महामारी की स्थिति दुनिया में अन्य देशों से बहुत भिन्न है। बहुत समय पहले ही यूरोप में महामारी का प्रकोप हुआ। यूरोपीय देशों के प्रयास के जरिये मई से जुलाई तक अधिकांश यूरोपीय देशों में महामारी प्रभावी रूप से नियंत्रित कर ली गयी। लेकिन अब यूरोप में महामारी की स्थिति फिर से बिगड़ रही है।

उन्होंने कहा कि महामारी की स्थिति बिगड़ने का मुख्य कारण यूरोपीय देशों में सार्वजनिक स्वास्थ्य और सामाजिक नियंत्रण के उपाय हटाया जाना है।

उन्होंने आगे कहा, अब यूरोप इन चुनौतियों का सामना कर रहा है कि महामारी के क्षेत्रीय प्रकोप और क्लस्टरिंग संक्रमण की आवृत्ति और से ज्यादा बनी है।

उन्होंने अपील की कि महामारी से दुनिया भर में शिक्षा व्यवस्था को गंभीर नुकसान पहुंचा है। इस फरवरी से जुलाई तक अधिकांश यूरोपीय देशों ने अपने स्कूल अस्थायी रूप से बंद किये। लॉकडाउन समाप्त होने के बाद इन स्कूलों को फिर से खोला जाएगा। छात्रों को स्कूलों में सुरक्षित वापस करने के लिये यूरोपीय देशों को संबंधित सार्वजनिक स्वास्थ्य उपाय करने होंगे।

(हैया)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories