यूरोपीय संघ और भारत : महामारी और जलवायु परिवर्तन से निपटने में सहयोग को मजूबत करेंगे

2020-07-16 10:22:36
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

15 जुलाई को युरोपीय संघ-भारत शिखर सम्मेलन वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से आयोजित किया गया। दोनों पक्षों ने सम्मेलन के बाद जारी संयुक्त घोषणा में कहा कि वे रणनीतिक साझेदारी को मजबूत करेंगे, बहुपक्षवाद को बढ़ावा देंगे और कोरोना वायरस, जलवायु परिवर्तन, व्यापार एवं निवेश, सुरक्षा से निपटने आदि क्षेत्रों में सहयोग को मजबूत करेंगे।

इस घोषणा में कहा गया कि यूरोपीय संघ और भारत प्रभावी बहुपक्षवाद और संयुक्त राष्ट्र व विश्व व्यापार संगठन आधारित बहुपक्षीय आदेश को बढ़ावा देंगे। दोनों पक्षों का मानना है कि वैश्विक सहयोग और एकजुटता जीवन की रक्षा और कोरोना वायरस महामारी के सामाजिक-आर्थिक प्रभावों को कम करने के लिए आवश्यक हैं।

जलवायु परिवर्तन को लेकर यूरोपीय संघ और भारत ने पेरिस समझौते को लागू करने पर जोर दिया। इसके साथ दोनों पक्ष डिजिटलाइजेशन, इंटरकनेक्शन और कर्मियों के आदान-प्रदान में सहयोग को मजबूत करेंगे।

शिखर सम्मेलन के बाद आयोजित संवाददाता सम्मेलन में यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष चार्ल्स मिशेल ने कहा कि यूरोपीय संघ क्षेत्रीय और विश्व स्तर पर एक मजबूत भूमिका निभाने की उम्मीद करता है। भारत के साथ बातचीत करने से इन रणनीतिक लक्ष्यों को मजबूत किया जाएगा।

(नीलम)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories