कोविड-19 महामारी से लम्बे समय से उपेक्षित असमानता का पर्दाफाश – यूएन उच्चायुक्त

2020-06-03 12:49:58
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार मामले की उच्चायुक्त मिशेल बैचलेट ने 2 जून को जिनेवा में कहा कि कोविड-19 महामारी से सामाजिक समुदाय पर पड़ा प्रभाव प्रति दिन विस्तृत हो रहा अंतर और अफ्रीकी मूल वाले लोगों समेत अल्पसंख्यक जाति पर प्रतिबिंबित होता है। जिससे सामाजिक असमानता दिखाई दे रही है। उनके विचार में इस प्रकार की असमानता से अमेरिका के शहरों में बड़े पैमाने वाली विरोध गतिविधि बढ़ चुकी है।

बैचलेट ने कहा कि डेटा के मुताबिक कोविड-19 महामारी से अफ्रीकी मूल के वासियों, ब्राजील, फ्रांस, ब्रिटेन और अमेरिका समेत कुछ देशों में अल्पसंख्यक जातियों पर विनाशकारी प्रभाव पड़ा है। विभिन्न देशों को न केवल फर्क से नस्लीय भेदभाव से ग्रस्त समुदाय पर ध्यान देना चाहिए, और साथ ही इसके स्रोत का ख्याल भी करना चाहिए। कोरोना वायरस ने लम्बे समय में अपेक्षित क्षेत्रीय असमानता का पर्दाफ़ाश किया। अमेरिका में जॉर्ज फ्लॉयड की मौत से हुए विरोध प्रदर्शनों से न केवल पुलिस द्वारा अश्वेत लोगों के प्रति हिंसात्मक कार्रवाई दिखी, बल्कि स्वास्थ्य, शिक्षा, रोज़गार आदि क्षेत्रों में असमानता तथा सर्वव्यापी नस्लीय भेदभाव भी सामने आया।

(श्याओ थांग)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories