चीन का गरीबी उन्मूलन अनुभव दुनिया के लिए लाभदायक :ब्रिटिश स्कॉलर

2020-06-01 10:45:40
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के चाइना सेंटर के प्रधान राना मित्तल (फोटो स्रोत: यूरोपीय टाइम्स यूके संस्करण)

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के चाइना सेंटर के प्रधान राणा मित्तर (फोटो स्रोत: यूरोपीय टाइम्स यूके संस्करण)

ब्रिटेन के ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के चाइना सेंटर के प्रोफेसर राणा मित्तर ने हाल ही में कहा कि चीन का गरीबी उन्मूलन का अनुभव दुनिया के लिए सीखने योग्य है। चीन में अभी समाप्त राष्ट्रीय जन प्रतिनिधि सभा में आर्थिक नीतियों पर विचारार्थ मुद्दों पर विश्व का ध्यान आकर्षित है और न्यू कोरोना निमोनिया महामारी से चीनी अर्थव्यवस्था को उच्च मूल्य वर्धित क्षेत्रों की ओर विकसित कराया जाएगा।

प्रोफेसर मित्तर ने कहा कि चीन में अभी समाप्त राष्ट्रीय जन प्रतिनिधि सभा में तय नीतियों के मुताबिक चीन अगले दौर में केंद्रीय रूप से क्षेत्रीय असंतुलन को हल करेगा। और चीन अपने गरीब क्षेत्रों खासकर कानसू प्रांत जैसे पश्चिमी क्षेत्रों के विकास पर अधिक ध्यान रखेगा। उधर चीन में गरीबी उन्मूलन कार्यों में प्राप्त अनुभव दूसरे देशों के लिए सीखने योग्य हैं। और यह बात भी महत्वपूर्ण है कि चीन ने वैज्ञानिक अनुसंधान और बुनियादी उपकरणों के निर्माण में भारी निवेश किया है। चीन द्वारा इसीलिए विज्ञान और प्रौद्योगिकी के विकास का नेतृत्व कर सकने का एक कारण है कि चीन ने उच्च-स्तरीय तकनीकी अनुसंधान एवं विकास में निरंतर और पर्याप्त निवेश लगाया है। उधर दूसरे देशों, जिनमें कुछ विकसित देश भी हैं, ने वैज्ञानिक अनुसंधान में कम निवेश किया है।

प्रोफेसर मित्तर ने कहा कि नये कोरोना निमोनिया महामारी से चीन के आर्थिक विकास पर असर तो पड़ा है, पर मौका भी तैयार किया गया है। मिसाल के तौर पर महामारी से ई-कॉमर्स के विकास को बढ़ाया गया है। महामारी के दौरान लोगों ने आम तौर पर ऑनलाइन सर्विस जैसे अलीबाबा और टेन्सेन्ट की सेवा पर ध्यान रखा है। महामारी के प्रकोप से ऑनलाइन सर्विस की सुविधा और असीमित संभावनाएं प्रतिबंबित हैं। इधर के वर्षों में चीन ने उच्च तकनीक उद्योग सहित उच्च मूल्य वर्धित उद्योगों में निवेश करने पर ध्यान केंद्रित किया है। महामारी से नई तकनीक उद्योग के विकास को ज्यादा प्रभावित नहीं किया है। मिसाल के तौर पर चीन में लोग कैश का इस्तेमाल नहीं करते हैं, पर मोबाइल फोन से भुगतान करते रहे हैं। इसलिए मेरा मानना है कि नये कोरोना वायरस महामारी के बाद प्रौद्योगिकी और व्यापार के बीच एकीकरण और मजबूत होगा।

( हूमिन )

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories