डब्ल्यूएचओ के साथ संबंधों को तोड़ेगा अमेरिका

2020-05-30 16:36:38
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने 29 मई के तीसरे पहर ह्वाइट हाउस के एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि चूंकि डब्ल्यूएचओ ने अमेरिका की मांग के अनुसार सुधार करने से इनकार किया, इसलिए अमेरिका डब्ल्यूएचओ के साथ संबंध को बंद करेगा और इस संगठन को दी गयी सदस्यता फीस को अन्य क्षेत्रों में इस्तेमाल में करेगा।

ट्रम्प में 18 मई को डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक टेड्रोस अधनोम घेब्रेयसस के नाम एक पत्र में धमकी दी कि अगर डब्ल्यूएचओ आगामी 30 दिनों में यथार्थ सुधार नहीं करता, तो अमेरिका इसे सदस्यता फीस को नहीं देगा और इस संगठन में रहने या न रहने पर पुनः विचार भी करेगा। ट्रम्प की इस कार्यवाई की अंतर्राष्ट्रीय समुदाय और अमेरिकी लोगों ने आलोचना की।

अमेरिकी कांग्रेस के प्रतिनिधि सदन की राजनयिक कमेटी के अध्यक्ष, लोकतांत्रिक पार्टी के सांसद इलियट एंगेल ने 27 मई को ट्रम्प सरकार द्वारा अस्थायी रूप से डब्ल्यूएचओ की सदस्यता फीस न देने के निर्णय की जांच करने का एलान किया।

अमेरिकी जॉन्स हॉपकिन्स विश्वविद्यालय द्वारा 29 मई को जारी आंकड़ों के अनुसार अमेरिका में कुल मिलाकर 17.4 लाख कोविड-19 के पुष्ट मामले हैं और मृतकों की संख्या 1 लाख से भी अधिक हो गयी है।

(श्याओयांग)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories