चार देशों का हांगकांग संबंधी बयान चीन के संकल्प को नहीं हिला सकता

2020-05-29 19:00:47
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

22 मई को 13वीं एनपीसी के तीसरे पूर्णाधिवेशन के उद्घाटन के दिन ब्रिटेन, कनाडा व ऑस्ट्रेलिया तीन देशों ने खुलेआम हांगकांग संबंधी बयान जारी किया। जबकि एनपीसी के समापन समारोह के अवसर पर अमेरिका, ब्रिटेन, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया आदि पश्चिमी चार देशों ने फिर एक बार हांगकांग की जनता के इरादे को नजरअंदाज कर चार देशों के हांगकांग संबंधी बयान जारी किया।

इस साल के एनपीसी सम्मेलन में हांगकांग से आए 36 प्रतिनिधियों ने चीन के अन्य प्रांतों के प्रतिनिधियों के साथ हांगकांग संबंधी राष्ट्रीय सुरक्षा कानून प्रारूप पर मतदान किया। 28 मई के तीसरे पहर मतदान के जरिए इसे पारित किया गया।

हांगकांग में 24 मई को लोगों ने इस कानून के समर्थन में सड़कों पर और ऑनलाइन हस्ताक्षर करने की गतिविधि आयोजित की, जिसमें लाखों से अधिक हांगकांग वासियों ने हस्ताक्षर किये। हांगकांग की प्रमुख प्रशासक ने भी इस गतिविधि में हिस्सा लिया।

हांगकांग संबंधी राष्ट्रीय सुरक्षा कानून को चीन की केंद्र सरकार द्वारा हांगकांग का प्रबल समर्थन दिया गया है। यह सभी जानते हैं कि जब देश सुरक्षित होगा, तो हांगकांग का और बेहतर विकास हो सकेगा।

(श्याओयांग)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories