डब्ल्यूएचओ : 8 करोड़ बच्चों के सामने जोखिम है

2020-05-23 16:57:00
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टेड्रोस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने 22 मई को आयोजित नियमित न्यूज ब्रीफिंग में कहा कि कोविड-19 के फैलाव के कारण बच्चों की नियमित टीकाकरण भी गंभीर रूप से प्रभावित हुई है, जो बुनियादी चिकित्सा सेवाओं में से एक है। एक वर्ष से कम आयु के 8 करोड़ बच्चों को जोखिम का सामना करना पड़ेगा।

टेड्रोस ने कहा कि नये कोरोनोवायरस की टीकों का विकास करने के साथ-साथ हमें मौजूद उन दर्जनों जीवन रक्षक टीकों को नहीं भूलना चाहिए और दुनिया भर के बच्चों का टीकाकरण जारी रखना चाहिए। प्रारंभिक विश्लेषण से पता चलता है कि कम से कम 68 देशों में नियमित टीकाकरण सेवाओं की आपूर्ति में भारी बाधा आई है, जिससे इन देशों में एक वर्ष से कम आयु के लगभग 8 करोड़ बच्चों पर प्रभाव पड़ेगा।

22 मई को डब्ल्यूएचओ ने कोविड-19 की पृष्ठभूमि में बड़े पैमाने पर टीकाकरण अभियान को लागू करने के बारे में एक नई दिशानिर्देश जारी किया। टेड्रोस ने कहा कि डब्ल्यूएचओ सभी भागीदारों के साथ यह सुनिश्चित करने के लिए काम करेगा कि कोविड-19 महामारी दशकों में दुनिया भर की टीकाकरण में प्राप्त उपलब्धियों को उलट नहीं करेगा।

आंकड़ों के अनुसार इस सदी की शुरुआत के बाद से बाल मृत्यु दर आधी कम हो गई, जो काफी हद तक सुरक्षित और प्रभावी टीकाकरण पर निर्भर करता है।

(मीनू)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories