ब्रिटिश वैज्ञानिक ने संसद में वायरस उत्पत्ति के षड्यंत्र सिद्धांत का खंडन किया

2020-05-20 14:19:05
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

स्थानीय समयानुसार 19 मई को ब्रिटिश वैज्ञानिक ने ब्रिटिश संसद के ऊपरी सदन की विज्ञान व तकनीक कमेटी में इस षड्यंत्र सिद्धांत का खंडन किया कि कोविड-19 वायरस वुहान की प्रयोगशाला से आया है।

क्या वुहान में स्थित वायरस अनुसंधान संस्थान में प्राप्त नमूने से कोविड-19 महामारी पैदा हुई?इस सवाल का जवाब देते समय ग्लासगो विश्वविद्यालय के वायरल जीनोमिक्स और जैव सूचना विज्ञान के प्रमुख प्रोफ़ेसर डेविड रॉबर्टसन ने दृढ़ता से कहा कि नहीं, बिल्कुल नहीं। उन के अनुसार अब तक इस कथन का समर्थन देने वाला कोई सबूत नहीं मिला। यह केवल एक षड्यंत्र सिद्धांत ही है। सबूत नहीं मिलने की स्थिति में हमें षड्यंत्र सिद्धांत पर विश्वास नहीं करना चाहिये।

हाल ही में अमेरिका, ब्रिटेन व ऑस्ट्रेलिया के विद्वानों से संगठित अनुसंधान दल ने यह बताया कि कोविड-19 अत्यधिक संक्रामक है। क्योंकि वह आसानी से मानव के सेल से जोड़ सकता है। पर यह क्षमता जेनेटिक कार्यक्रम में प्राप्त नहीं हो सकती, केवल प्राकृतिक चुनाव से पैदा हो सकती है। गौरतलब है कि यह पेपर ब्रिटिश पत्रिका प्रकृति चिकित्सा में जारी हुआ है।

चंद्रिमा

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories