विश्व स्वास्थ्य महासभा में शी चिनफिंग का भाषण महामारी के वैश्विक मुकाबले के लिए महत्वपूर्ण : इतालवी विद्वान

2020-05-19 16:17:47
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टेड्रोस अदनोम घेब्रेयसस के निमंत्रण पर चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 18 मई को 73वीं विश्व स्वास्थ्य महासभा के उद्घाटन के वीडियो कार्यक्रम में भाषण दिया और महामारी को जीतने के लिए एकता व सहयोग की अपील की। इस बारे में इटली के लोरेंजो डे मेडिसी संस्थान के उप प्रोफ़ेसर फैबियो मासिमो पेरेंटी ने साक्षात्कार में कहा कि शी चिनफिंग के अपने भाषण में एकता व सहयोग संबंधी सुझाव महामारी के वैश्विक मुकाबले के लिए महत्वपूर्ण है।

राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने भाषण में कहा कि चीन ने खुले, पारदर्शी और जिम्मेदार रवैया अपनाते हुए डब्ल्यूएचओ और संबंधित देशों को महामारी की सूचना दी और पहले समय पर वायरस जीन अनुक्रम जारी किया। चीन ने बगैर कुछ छिपाए विभिन्न पक्षों के साथ महामारी की रोकथाम व नियंत्रण और इलाज संबंधी अनुभव साझा किये।

कुछ पश्चिमी राजनेताओं और मीडिया ने कहा कि कोविड-19 के प्रकोप के शुरुआती चरण में चीन की जानकारी गैर-पारदर्शी रही। इस बारे में फैबियो मासिमो पेरेंटी ने कहा कि यह कथन बिलकुल निराधार है। कोविड-19 दुनिया भर के 210 से अधिक देशों में फैल गया है। महामारी से पार पाना प्रत्येक देश पर निर्भर करता है और कोई भी व्यक्ति अकेला नहीं रह सकता है। शी चिनफिंग ने अपने भाषण में महामारी से लड़ने के लिए छह सुझाव पेश किये, जिन्होंने फैबियो मासिमो पेरेंटी पर गहरी छाप छोड़ी है। उन्होंने कहा कि महामारी की रोकथाम और सहयोग महामारी के वैश्विक मुकाबले के लिए महत्वपूर्ण है।

(मीनू)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories