थाईलैंड : कोविड-19 का मुकाबला किसी एक देश का मामला नहीं है

2020-04-10 11:58:49
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

8 अप्रैल को चीन के हुबेई प्रांत का वुहान शहर पुनः खुल गया। थाईलैंड की संसद के भूतपूर्व अध्यक्ष फोखीन फोलाकुन ने सीएमजी पत्रकार को दिए एक साक्षात्कार में कहा कि वुहान के पुनः खुलने से इस बात का द्योतक है कि चीन में महामारी के मुकाबले में उपलब्धियां हासिल की हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि महामारी का मुकाबला किसी एक देश का मामला नहीं है, बल्कि यह सभी देशों के सामने मौजूद समान चुनौती है।

उन्होंने कहा कि उन्होंने चार बार वुहान शहर का दौरा किया था। वुहान ने उन पर गहरी छाप छोड़ी है। उन्हें खुशी है कि वुहान की जनता 76 दिनों के लॉकडाउन के बाद आखिरकार अपने घर से बाहर निकल सकती है। कोविड-19 मानव जाति के सामने समान दुश्मन है। इस वक्त सभी लोगों के लिए सहयोग कर शांतिपूर्ण सहअस्तित्व करना अति महत्वपूर्ण है, जबकि लोगों को संदेह, निंदा और गतिरोध से बचना चाहिए।

फोखीन फोलाकुन ने कहा कि चीन ने पूरी दुनिया के लिए मिसाल कायम की है। चीन ने समय पर विश्व के साथ संबंधित सूचनाओं को साझा किया, जो बहुत सही कार्यवाई है। अपने देश में महामारी पर कारगर रूप से काबू करने के बाद चीन ने अन्य देशों को मदद देने की हरसंभव कोशिश की है। महामारी का मुकाबला करना किसी एक देश का मामला नहीं है, जबकि सभी देशों के सामने आयी एक चुनौती है। खुद विजय पा लेना सही विजय नहीं है, बल्कि मिलकर विजय पाना ही सही मायने में विजय है। इस क्षेत्र में चीन ने बिलकुल सही किया। जैसे कि चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने कहा था कि वायरस की कोई सीमा नहीं है। कोई भी खुद को इसे अलग नहीं कर सकता। आशा है कि यह संकट विश्व के लिए एक मौके में बदल सकेगा, ताकि सब लोग एकजुट होकर महामारी का मुकाबला करने में विजय पा सकें।

(श्याओयांग)

 

 

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories