व्हाइट हाउस का प्रकोप विशेषज्ञ: चीन के खिलाफ ट्रम्प के आरोप सच नहीं हैं

2020-03-24 10:42:54
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
4/6

अमेरिकी राष्ट्रीय एलर्जी और संक्रामक रोग संस्थान के निदेशक, व्हाइट हाउस को महामारी के वैज्ञानिक सलाह देने वाले विशेषज्ञ एंथोनी फौसी ने हाल ही में अमेरिकी पत्रिका साइंस के साथ इंटरव्यू में कहा कि वह नोवेल कोरोना वायरस को "चीनी वायरस" के रूप में वर्णित करने के अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के दृष्टिकोण से सहमत नहीं हैं। फौसी ने कहा कि वह "ऐसा नहीं कहेगा" और "कभी नहीं"।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प द्वारा तथाकथित "चीन को अमेरिका नोवेल कोरोना वायरस की स्थिति 3-4 महीने पहले बता देना चाहिए" के कथन दिया जाने के बाद,फौसी ने कहा है कि यह कथन तथ्यों के साथ असंगत है। चीन में महामारी फैलने के 2-3 महीने पहले केवल पिछले वर्ष का सितंबर था।

फौसी का विचार है कि इसके बाद संबंधित लोगों को ट्रम्प को सावधानी से बात करने और ऐसा कहने से रोकना चाहिए। फौसी ने उसी समय बेबस हो कर कहा कि माइक्रो फ़ोन के सामने कूदना और ट्रम्प को नीचे धकेलना असंभव है। अब जब कि ट्रम्प ने यह कहा है, अगली बार इसे ठीक करने का प्रयास करें।(वनिता)

शेयर