संयुक्त राष्ट्र के एशिया व प्रशांत महिला अधिकार व हित सम्मेलन में अमेरिका को नकारा गया

2019-12-01 18:30:02
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
3/3

29 नवंबर को बैंकाक में समाप्त संयुक्त राष्ट्र के एशिया व प्रशांत महिला अधिकार व हित सम्मेलन के मतदान में 37:1 के परिणाम से एक घोषणा पत्र पारित किया गया, जिस का नाम है《पेइचिंग घोषणा की 25वीं वर्षगांठ——लैंगिक समानता को मजबूत करने और महिलाओं को अधिकार देने की एशिया व प्रशांत मंत्री स्तरीय घोषणा》। अमेरिका ने इसके खिलाफ़ एकमात्र वोट दिया है।

इस बार का सम्मेलन एशिया व प्रशांत देशों में अगले वर्ष होने वाली पेइचिंग विश्व महिला महासभा की 25वीं वर्षगांठ के लिये आयोजित एक तैयारी सम्मेलन था। इस में अपने क्षेत्र में महिला अधिकारों व हितों की सुनिश्चितता से जुड़े कार्यों में प्राप्त प्रगतियों का मूल्यांकन भी किया गया। इस सम्मेलन पर लोगों ने बड़ा ध्यान दिया। 40 से अधिक देशों ने सरकारी प्रतिनिधिमंडल भेजकर इस में भाग लिया। उन में 24 देशों ने मंत्री स्तरीय प्रतिनिधिमंडल भेजा। विभिन्न पक्षों ने पेइचिंग में आयोजित विश्व महिला महासभा के ऐतिहासिक महत्व व उपलब्धियों का उच्च मूल्यांकन किया, और पेइचिंग भावना पर कायम रहने और लैंगिक समानता व महिला कार्य के विकास को मजबूत करने की अपील भी की।

चंद्रिमा

शेयर