सूचना:चाइना मीडिया ग्रुप में भर्ती

संयुक्त राष्ट्र का अमेरिका से आग्रह, क्यूबा पर लगी नाकेबंदी को हटाए

2019-11-08 16:13:23
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

74वीं संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 7 नवंबर को भारी बहुमतों से एक प्रस्ताव पारित किया। जिसने एक बार फिर अमेरिका से क्यूबा पर 60 साल तक लगी आर्थिक, वाणिज्य व वित्तीय नाकेबंदी को हटाने का आग्रह किया। संयुक्त राष्ट्र महासभा में निरंतर 28 साल तक ऐसा प्रस्ताव पारित हुआ है।

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने उसी दिन क्यूबा द्वारा प्रस्तुत संबंधित प्रस्ताव के मसौदे पर मतदान किया। 193 सदस्य देशों में से 192 सदस्य देशों ने मतदान में भाग लिया। मतदान में पक्ष में 187, विपक्ष में केवल अमेरिका, इजराइल और ब्राजिल के वोट पड़े, जबकि कोलंबिया और यूक्रेन के वोट तटस्थ रहे।

प्रस्ताव में सभी देशों से इस तरह के कानून लागू न करने की अपील की गयी, जो दूसरे देशों की संप्रभुता और उनके अधीन क्षेत्रों में संस्थाओं व व्यक्तियों के वैध हितों, व्यापार और नौवहन की स्वतंत्रता पर प्रभाव डालते हैं। जैसे कि अमेरिका का हेल्स बर्टन एक्ट। जल्द से जल्द इस तरह के कानूनों व कदमों को हटाने का आग्रह किया गया।

क्यूबा के विदेश मंत्री ब्रूनो रॉड्रिग्ज पर्रिला ने मतदान से पहले कहा कि अमेरिका ने क्यूबा पर नाकेबंदी लगायी, जिससे क्यूबा की जनता के मानवाधिकार को नुकसान पहुंचा। अमेरिका की ईंधन परिवहन निषेध नीति से क्यूबा के लोगों का जीवन मुश्किल हो गया।

(मीनू)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories