जाम्बिया के राष्ट्र पिता:चीन अफ्रीकी देशों का विश्वसनीय दोस्त है

2019-10-08 15:02:09
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

जाम्बिया के राष्ट्र पिता केनेथ कोंडा चीनी लोगों के पुराने दोस्त हैं। उनके नेतृत्व में जाम्बिया 25 अक्तूबर 1964 को स्वतंत्र हुआ था। इसके एक दिन बाद जाम्बिया और चीन लोक गणराज्य के बीच राजनयिक संबंध की स्थापना की गयी, जो दक्षिण अफ्रीका में नये चीन के साथ राजनयिक संबंध स्थापित करने वाला पहला देश बना।

केनेथ कोंडा ने 1967 में चीन की पहली यात्रा के दौरान चीनी नेताओं के साथ तंज़ानिया-ज़ाम्बिया रेलवे के निर्माण पर विचार-विमर्श किया। उस समय तंज़ानिया और ज़ाम्बिया अभी भी स्वतंत्र हुए थे। उनपर कुछ देशों द्वारा नाकेबंदी की गई। उन्होंने यूरोप और अमेरिका से रेलवे का निर्माण करने की सहायता मांगी। लेकिन अमेरिका ने दोनों को इन्कार किया। इसी स्थिति में चीनी नेताओं ने तंजानिया-जाम्बिया रेलवे के निर्माण में सहायता करने का दृढ़ निर्णय लिया।

95 वर्षीय केनेथ कोंडा मानते हैं कि तंज़ानिया-ज़ाम्बिया रेलवे चीन और अफ्रीका के ईमानदार सहयोग के प्रतिनिधि हैं। चीन अफ्रीका के प्रति संबंधों में एक दूसरे का सम्मान और समान व्यवहार करता है, ताकि समान विकास प्राप्त हो सके।

मीनू

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories