विदेशी लोकमत:चीन और अमेरिका के शिखर वार्ता का सक्रिय आकलन

2019-07-01 19:22:54
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 29 जून को जापान के ओसाका में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के साथ वार्ता की। दोनों पक्षों ने समन्वय, सहयोग और स्थिरता के वाले चीन-अमेरिका संबंध को लगातार आगे बढ़ाने पर सहमति जताई और घोषणा की कि समानता और आपसी सम्मान के आधार पर आर्थिक व्यापारिक वार्ता को पुनः शुरु किया जाएगा। विदेशी लोकमत है कि उपरोक्त अहम आम सहमतियों ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय और वैश्विक बाज़ार को सक्रिय संकेत दिया, चीन-अमेरिका संबंध स्थिर रूप से दूर तक आगे बढ़ने की बड़ी संभावना है।

मुख्यालय वाशिंगटन में स्थित अमेरिका के चीन-अमेरिका अनुसंधान केंद्र के उच्च स्तरीय शोधकर्ता सौरभ गुप्ता ने चीनी और अमेरिकी शीर्ष नेताओं के बीच हुई भेंटवार्ता की प्रशंसा की और कहा कि अमेरिका और चीन को सदिच्छापूर्ण रुप से आपसी संपर्क करना चाहिए। उन्हें आशा है कि दोनों पक्ष वर्तमान मुश्किलों को दूर कर संधि पर हस्ताक्षर करेंगे। यह दोनों देशों के लिए फलदायी होगा और भविष्य में चीन-अमेरिका संबंध पर दूरगामी सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

ब्रिटिश 48 ग्रुपों के क्लब के अध्यक्ष स्टीफन पेरी ने कहा कि चीनी और अमेरिकी शीर्ष नेताओं ने आर्थिक व्यापारिक वार्ता को पुनः शुरु करने पर सहमति जताई, यह प्रेरणात्मक खबर है। चीन ने अमेरिका के बीच हुए व्यापारिक घर्षण के निपटारे में अच्छा किया। चीन-अमेरिका सहयोग में बड़ा मौका मौजूद है। दोनों पक्षों को केवल सहयोग करना चाहिए।

वहीं इंडोनेशियाई मलंग नेशनल यूनिवर्सिटी के कुलपति सेम्बिरिंग ने कहा कि चीन और अमेरिका के शीर्ष नेताओं ने ओसाका वार्ता में दोनों देशों के बीच आर्थिक व्यापारिक वार्ता को पुनः शुरु करने का फैसला किया, जिसने सारी दुनिया के सामने एक सक्रिय संकेत किया। आसियान देश और चीन अमेरिका के बीच घनिष्ठ आर्थिक व्यापारिक सहयोगी संबंध कायम रहे हैं, तो वे चीन और अमेरिका के बीच सामान्य आर्थिक व्यापारिक संबंधों की बहाली के प्रति संतुष्ट हैं।

(श्याओ थांग)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories