लगातार दो दिनों के लिये अंतर्राष्ट्रीय संधि ने सीरिया पर हवाई हमला किया, 30 नागरिकों की मौत

2018-06-13 18:56:12
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

अमेरिका के नेतृत्व में अंतर्राष्ट्रीय संधि ने 11 और 12 जून को दोनों दिनों में उत्तर-पूर्वी सीरिया के अल हसाकाह प्रांत पर हवाई हमले किये। इन में 30 नागरिकों की मौत हुई। साना समाचार एजेंसी ने इस बात की रिपोर्ट की।

रिपोर्ट के अनुसार अंतर्राष्ट्रीय संधि ने 11 जून को अल हसाकाह के एक इराकी  शरणार्थी शिविर पर हवाई हमला किया। इसमें 18 नागरिकों की मौत हुई। अधिकांश मृत लोग महिला और बच्चे समेत इराकी शरणार्थी हैं। 12 जून को अंतर्राष्ट्रीय संधि ने दक्षिण-पूर्वी अल हसाकाह के ताल शायर के आवासीय पर हवाई हमला किया। इसमें 12 नागरिक मारे गये।

रिपोर्ट से पता चला है कि दक्षिणी अल हसाकाह में अंतर्राष्ट्रीय संधि के हवाई हमला और गंभीर बना। अंतर्राष्ट्रीय संधि का लक्ष्य सीरियाई कुर्द सशस्त्र “सीरियाई डेमोक्रेटिक फोर्स” को इस क्षेत्र पर कब्जा करने की मदद करना है।

सीरियाई विदेश मंत्रालय ने 12 जून को संयुक्त राष्ट्र के महासचिव और सुरक्षा परिषद के अध्यक्ष को फिर एक पत्र भेजा। इस पत्र में सीरियाई विदेश मंत्रालय ने निंदा करते हुए कहा कि अमेरिका के नेतृत्व में अंतर्राष्ट्रीय संधि से युद्ध अपराधों और मानवता के विरुद्ध अपराध है। उन्होंने अपील की कि सुरक्षा परिषद को अंतर्राष्ट्रीय शांति व सुरक्षा की रक्षा की जिम्मेदारी लेनी चाहिए।(हैया)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories