क्षेत्रीय संपर्क बढ़ाने के लिए अफगानिस्तान में शांति – पाक प्रधानमंत्री

2020-10-24 18:08:39
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को कहा कि अफगानिस्तान में शांति से मध्य एशियाई देशों के साथ सहयोग और संपर्क बढ़ाने के लिए नए रास्ते खोलने से पाकिस्तान और अफगानिस्तान दोनों को फायदा होगा।

प्रधानमंत्री कार्यालय के मुताबिक, इमरान खान ने इस्लामाबाद में अफ़गान संसद के निचले सदन के अध्यक्ष मीर रहमान रहमानी के नेतृत्व वाले प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात में यह बात कही।

अफगान संसद का एक प्रतिनिधमंडल शुक्रवार को पाकिस्तान पहुंचा, जिसका मकसद दोनों देशों की संसदों के बीच संबंधों और अफगान शांति प्रक्रिया में पाकिस्तान की भूमिका को लेकर चर्चा करना और आर्थिक संबंधों को बढ़ावा देना है।

प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया कि इमरान खान ने पाकिस्तान दौरे पर रहमानी का स्वागत किया और दोनों देशों की संसदों के बीच बढ़ते आदान-प्रदान की सराहना की। उन्होंने अफगानिस्तान के साथ सभी क्षेत्रों में भाईचारा संबंधों को बढ़ाने की पाकिस्तान की इच्छा को दोहराया, और कहा कि अफगानिस्तान में संघर्ष का कोई सैन्य समाधान नहीं है।

उन्होंने वार्ता के माध्यम से एक राजनीतिक समाधान वाला प्रस्ताव प्राप्त करने पर ज़ोर दिया और दोहराया कि पाकिस्तान अफ़गानिस्तान में शांति और स्थिरता का लगातार समर्थन करता रहेगा।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बीच आर्थिक तालमेल और अनुपूरक अछूते रहे हैं जो केवल आर्थिक और व्यापारिक क्षेत्र में सहयोग के माध्यम से ही पूरे हो सकते हैं।

यहां बता दें कि अफगानिस्तान के सांसद इस्लामाबाद में सोमवार से शुरू होने वाले दो दिवसीय पाकिस्तान-अफगान व्यापार और निवेश मंच में भाग लेंगे, इस दौरान द्विपक्षीय व्यापार संबंधों को बढ़ावा देने के तरीकों पर विचार विमर्श किया जाएगा।

(श्याओ थांग)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories