चीन-नेपाल बंदरगाह के माल परिवहन की बहाली

2019-05-30 10:59:13
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
1/8

चीन के चांगमू और नेपाल के कोदारी (Kodari) बंदरगाह के बीच माल परिवहन 29 मई को बहाल किया गया। दोनों बंदरगाहों के बीच माल ढुलाई की बहाली के लिए एक रस्म आयोजित हुई।

चांगमू और कोदारी चीन और नेपाल के बीच सीमा व्यापार का सबसे बड़ा स्थलीय बंदरगाह है। वर्ष 2015 के अप्रैल में आए गंभीर भूकंप से यह रास्ता नष्ट हो गया था। बंदरगाह बहाली रस्म में तिब्बत स्वायत्त प्रदेश के अध्यक्ष चिज़ाला ने कहा कि सीमा व्यापार की बहाली दोनों देशों के समान प्रयासों से प्राकृतिक आपदाओं की कठिनाइयों को दूर करने और व्यापारिक व्यापार को पुनःस्थापित करने के लिए महत्वपूर्ण घटना है।

सीमा व्यापार बंदरगाह की बहाली के लिए चीन सरकार ने भूवैज्ञानिक आपदा का प्रबंधन करने, सड़क की मरम्मत करने, पोर्ट पुनर्निर्माण करने तथा जल संरक्षण परियोजना का निर्माण करने में भारी निवेश किया। नेपाल स्थित चीनी राजदूत हाओ यैन छी के अनुसार कुछ समय पूर्व चीन और नेपाल ने पारगमन परिवहन समझौते के पश्चात प्रोटोकॉल पर हस्ताक्षर किये। हिमालयन इंटरकनेक्शन नेटवर्क और चीन-नेपाली सीमा पार रेलवे को दूसरे "बेल्ट एंड रोड" अंतर्राष्ट्रीय सहयोग शिखर सम्मेलन फोरम के आउटकम दस्तावेज में शामिल किया गया है।

पता चला है कि भूवैज्ञानिक स्थिति की वजह से वर्ष 2019 के अंत से पहले चांगमू-कोदारी बंदरगाह में सिर्फ आम सीमा व्यापार किया जाता है। इसी दौरान सीमांत क्षेत्रों में रहने वालों के बीच व्यापार और व्यक्तियों के प्रवेश और निकास की सेवा तैयार नहीं है।

( हूमिन )


शेयर