चीन-पाक आर्थिक गलियारे से मजबूत होगा पाकिस्तान का आर्थिक विकास

2019-04-08 19:13:56
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

वर्तमान में कुछ रिपोर्टों में यह कहा गया है कि चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा परियोजना का निर्माण पाकिस्तान के आर्थिक विकास के लिए नुकसानदेह है। इसके जवाब में चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू खांग ने 8 अप्रैल को पेइचिंग में आयोजित प्रेस सम्मेलन में कहा कि चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा परियोजना पाकिस्तान के आर्थिक विकास के लिए नुकसानदेह नहीं है, बल्कि इससे पाकिस्तान का आर्थिक विकास मजबूत होगा।

वर्तमान में कुछ मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक एक पट्टी एक मार्ग सुझाव के आधार पर पाकिस्तान में आधारभूत संरचना का निर्माण अब तक सिर्फ आधा समाप्त हुआ है, यह पाकिस्तान के आर्थिक विकास के लिए नुकसानदेह है।

इसके जवाब में लू खांग ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय वित्तपोषण के जरिए महत्वपूर्ण परियोजना का निर्माण करना वैश्विक तरीका है, और विकासशील देशों के फंड की कमी का हल करने का प्रभावी तरीका भी है। चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा परियोजना में सिर्फ 20 प्रतिशत की फंडिंग पाकिस्तान ने चीन से ऋण लेकर की है, बाकी 80 प्रतिशत फंडिंग में चीन ने पाकिस्तान में सीधे निवेश किया और चीन की अवैतनिक सहायता है। इस परियोजना का निर्माण पाकिस्तान के आर्थिक विकास के लिए नुकसानदेह नहीं, बल्कि पाकिस्तान में आर्थिक विकास के लिए लाभदायक है। क्योंकि चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे के निर्माण ने 5 साल में स्थानीय लोगों को दस हजार से ज्यादा रोजगार के अवसर दिए हैं, साथ ही 86 लाख परिवारों की बिजली समस्या भी हल की है।

उन्होंने यह भी कहा कि इन परियोजनाओं ने पाकिस्तान में आधारभूत संरचना में सुधार किया। पाक सरकार और जनता इसका स्वागत करती है। उम्मीद है कि संबंधित मीडिया पाकिस्तान में नागरिकों के असली विचार समझने के बाद रिपोर्ट पेश करेंगे।

(मीरा)


शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories