इंटरव्यू : बॉलिवुड अभिनेत्री रानी मुखर्जी को और अधिक इंडो-चाइना फिल्म उत्पादन की उम्मीद

2019-02-12 10:27:32
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
1/6

भारत की लोकप्रिय फिल्म अभिनेत्री रानी मुखर्जी ने कहा कि वह फिल्म उद्योग में भारत-चीन के सह-उत्पादन की उम्मीद करती हैं।

हाल ही में सिन्हुआ को दिए एक साक्षात्कार में कहा, "मैं वास्तव में भारत-चीन के सह-निर्माण के लिए उत्सुक हूं, जहां मैं चीनी फिल्म का हिस्सा हो सकती हूं या चीनी कलाकार भारतीय फिल्म का हिस्सा हो सकते हैं।"

उन्होंने चीन में अपनी फिल्म की रिलीज़ के लिए खुशी और सम्मान महसूस किया और इंडो-चाइना सह-निर्मित फिल्म के साथ काम करने की इच्छा व्यक्त की। उन्होंने कहा "चीनी उपशीर्षक के साथ हिचकी को हिंदी में देखने वाले चीनी दर्शकों की प्रतिक्रिया किसी भी भारतीय प्रशंसकों की तरह थी क्योंकि वे इस फिल्म की कहानी और भावनाओं से जुड़े हुए थे।"

उन्होंने आगे कहा, "आप महसूस करेंगे कि आपको फिल्म से जुड़ने के लिए भाषा का ज्ञान होने की जरूरत नहीं है, आप भावनाओं से जुड़ सकते हैं, आप कहानी से जुड़ सकते हैं। मुझे लगता है कि ये सब फिल्म को इतना खास बनाता है। अगर भावनाएं सार्वभौमिक हैं, तो यह कहीं भी जुड़ सकता है।"

हिचकी, साल 2018 में रिलिज हुई एक भारतीय हिंदी कॉमेडी-ड्रामा फिल्म है, जो आत्मकथा "फ्रंट ऑफ़ द क्लास" पर आधारित है। फिल्म में, रानी मुखर्जी ने टॉरेट सिंड्रोम वाले एक महत्वाकांक्षी शिक्षक की प्रमुख भूमिका निभाई, जो कि वंचित छात्रों के एक समूह को शिक्षित कर खुद को साबित करना चाहती है।

साल 2017 में चीन में रिलीज़ हुई बॉलीवुड स्टार आमिर खान की फिल्म "दंगल" के बाद से, एक बात तेजी से स्पष्ट हो गई है कि अधिकाधिक भारतीय फिल्मों का चीन के बाजार में प्रवेश करने की राह आसान हो गई है। रानी मुखर्जी की यह फिल्म "हिचकी" चार साल के अंतराल के बाद रिलीज़ हुई फिल्मों में से एक है।

12 करोड़ भारतीय रुपये (1.7 मिलियन अमेरिकी डॉलर) के सीमित बजट पर बनी इस फिल्म ने दुनिया भर में 239.79 करोड़ भारतीय रुपये (36 मिलियन डॉलर) की कमाई की है, जिसमें से अधिकांश चीन से है। यह कथित तौर पर 2018 की शीर्ष सात सबसे अधिक कमाई वाली बॉलीवुड फिल्मों में से एक थी।

रानी मुखर्जी ने शिन्हुआ न्यूज एजेंसी को बताया कि चीनी लोगों को इस कहानी से जुड़ा हुए देखते हुए अभूतपूर्व और अद्भुत एहसास हुआ।

मुखर्जी ने कहा, "मेरे लिए चीन में रहना और चीनी लोगों से प्यार हासिल करना, मेरे लिए इससे बड़ी बात नहीं है।"

हिंदी फिल्मों में अपने काम के लिए जानी जाने वाली रानी मुखर्जी देश की सबसे लोकप्रिय अभिनेत्रियों में से एक हैं और उन्हें कई पुरस्कार मिले हैं, जिसमें सात फिल्मफेयर अवार्ड शामिल हैं। फिल्मों में अभिनय के अलावा, रानी मुखर्जी कई मानवीय कारणों से जुड़ी हैं और महिलाओं और बच्चों के मुद्दों पर खुलकर सामने आती हैं।

साक्षात्कार की शुरुआत में, रानी ने सभी चीनी लोगों को अपनी शुभकामनाएं व्यक्त कीं। उन्होंने कहा, "मैं सभी चीनी लोगों को नए साल की बहुत-बहुत शुभकामनाएं देना चाहूंगी और मुझे उम्मीद है कि आप सभी का परिवार के साथ बहुत अच्छा समय बीतेगा।" और साथ ही चीनी भाषा में "वो आई नी" कहा, जिसका हिन्दी अर्थ है “मैं तुमसे प्यार करती हूं।”

(अखिल पाराशर)

शेयर