पाकिस्तान स्थित चीनी दूतावास और पाक विदेश मंत्रालय ने अफ़गान शरणार्थी शिविर के छात्रों को सामग्रियों का चंदा दिया

2018-12-06 15:06:42
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

5 दिसंबर को पाकिस्तान स्थित चीनी दूतावास और पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान में रह रहे अफगान शरणार्थी शिविर के 2 सौ छात्रों को कपड़े और किताबें बांटीं।

5 तारीख को पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय में पाकिस्तान स्थित चीनी दूतावास और पाक विदेश मंत्रालय ने समान रूप से अफ़ग़ान शरणार्थी शिविर के छात्रों को सामग्रियों का चंदा देने का समारोह आयोजित किया। खुरासान हाई स्कूल से आए एक अफ़ग़ान छात्रा प्रतिनिधि ने कहा कि हमारी मदद करने वाले व्यक्ति विशेष कर चीन सरकार और पाकिस्तान सरकार के हम आभारी हैं।

पाक विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि पाकिस्तान और अफ़ग़ानिस्तान के बीच संबंध अत्यन्त महत्वपूर्ण हैं, इतिहास, धर्म और संस्कृति आदि क्षेत्रों में दोनों देशों के बीच घनिष्ठ संपर्क है। 40 वर्षों तक पाकिस्तान ने अफ़ग़ानिस्तान के 30 लाख से अधिक शरणार्थियों को स्वीकार किया, पाकिस्तान के विश्वविद्यालों में शिक्षा पाने के लिए 6 हज़ार अफ़गान छात्रों को छात्रवृत्ति दी। वर्तमान में अफ़गान शरणार्थी शिविर के 50 हज़ार छात्रों ने पाकिस्तान के विश्वविद्यालों से स्नातक की उपाधि लेने के बाद अफ़ग़ानिस्तान वापस लौटकर अपने देश के निर्माण में हिस्सा लिया। भविष्य में पाकिस्तान चीन के साथ अफ़ग़ानिस्तान की शांतिपूर्ण प्रक्रिया को और अधिक कारगर बनाने की कोशिश करेगा।

पाकिस्तान स्थित चीनी राजदूत याओ चिंग ने कहा कि इस बार की सामग्रियों का चंदा देने की कार्यवाही का प्रतीक है कि चीन, पाकिस्तान और अफ़ग़ानिस्तान समान प्रयास से अफ़ग़ानिस्तान का और सुंदर भविष्य बनाएंगे।

पाकिस्तान स्थित अफ़गान अस्थायी कार्यदूत ने पाकिस्तान में शिक्षा पाने वाले अफ़गान छात्रों को सामग्रियों का चंदा देने के लिए चीन सरकार के प्रति आभार प्रकट किया। उन्हें उम्मीद है कि अफ़ग़ानिस्तान चीन और पाकिस्तान के बीच मित्रवत संबंध, सहयोग को आगे बढ़ाएगा, ताकि समान रूप से अफ़ग़ानिस्तान और क्षेत्र की शांति और स्थिरता की रक्षा की जा सके।

(वनिता)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories