कपड़े बनाने के उद्योग में चीन और बांग्लादेश के बीच सहयोग का व्यापक भविष्य है

2018-12-05 15:35:55
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

विश्व व्यापार संगठन द्वारा इस वर्ष के अगस्त में जारी आंकड़ों के अनुसार 2017 में बांग्लादेश ने 29 अरब डॉलर का वस्त्र निर्यात किया। यह विश्व में कपड़े बनाने के बाजार का 6.5 प्रतिशत भाग है। इस तरह बांग्लादेश कपड़ों की दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा निर्यातक देश बन गया है। इस उद्योग से बांग्लादेश के 40 लाख लोगों को रोज़गार मिला, जिनमें 80 प्रतिशत महिलाएं हैं।

2011 चीन ने बांग्लादेश से आए कई वस्त्र उत्पादों समेत हजारों उत्पादों पर लगे सीमा-शुल्क को समाप्त किया था। इसके बाद चीन में बांग्लादेश के वस्त्र निर्यात में बड़ी वृद्धि हुई।

बांग्लादेश के परिधान विनिर्माण और निर्यात संघ ने कहा कि चीन का बड़ा उपभोक्ता आधार है और बांग्लादेश का एक प्रमुख वस्त्र निर्यात गंतव्य देश बन गया है।

हाल के वर्षों में, चीन को बांग्लादेश हर वर्ष 30 करोड़ अमेरिकी डॉलर का निर्यात करता है। बांग्लादेश में उद्योग के अंदरूनी सूत्रों का मानना है कि भविष्य में चीनी बाज़ार में वृद्धि होने की बड़ी संभावना है। बांग्लादेश चीन द्वारा प्रस्तुत "एक पट्टी एक मार्ग" प्रस्ताव से संबंधित देश है। दोनों देशों की उत्पादन लागत और बाज़ार के ढांचे में बदलने के साथ इस वर्ष कई चीनी वस्त्र उद्यमों ने बांग्लादेश में व्यापार शुरू किया। अनुमान है कि अगले वर्ष और अधिक चीनी उद्यम बांग्लादेश के साथ सहयोग करेंगे।

(वनिता)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories