चीन से भ्रष्टाचार का विरोध और गरीबी उन्मुलन का अनुभव सीखना चाहता हूँ- इमरान खान

2018-11-01 17:12:33
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

चीन से भ्रष्टाचार का विरोध और गरीबी उन्मुलन का अनुभव सीखना चाहता हूँ- इमरान खान

चीन से भ्रष्टाचार का विरोध और गरीबी उन्मुलन का अनुभव सीखना चाहता हूँ- इमरान खान

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान 2 से 5 नवम्बर तक चीन की औपचारिक यात्रा करेंगे और शांगहाई में आयोजित पहला चीन अंतरराष्ट्रीय आयात एक्सपो में भाग लेंगे। 31 अक्तूबर को उन्होंने प्रधानमंत्री भवन में चीनी मीडिया को एक संयुक्त साक्षात्कार दिया और कहा कि यात्रा के दौरान वे चीनी नेताओं से भ्रष्टाचार का विरोध और गरीबी उन्मुलन का अनुभव सीखना चाहते हैं। आशा है कि चीन के तेज़ विकास वाले अनुभव से कुछ सीखेंगे। वे पहला चीन अंतरराष्ट्रीय आयात एक्सपो की प्रतिक्षा में हैं।

इमरान खान ने कहा कि यह उनकी दूसरी चीन यात्रा होगी और पाक प्रधानमंत्री बनने के बाद दूसरा विदेशी औपचारिक यात्रा भी होगी। पाकिस्तान-चीन संबंध का इतिहास बहुत पुराना ही नहीं, असाधारण भी है। चीन ने पाक जनता की जरूरतों का बड़ा समर्थन किया। विश्व में सबसे तेज़ आर्थिक वृद्धि वाला देश और दूसरा आर्थिक समुदाय होने के नाते चीन के पास कई अनुभव पाकिस्तान के लिए सीखने योग्य हैं। जैसा कि शहरी विकास और प्रदूषण की रोकथाम, खास कर भ्रष्टाचार विरोधी और गरीबी उन्मुलन आदि क्षेत्रों में वे यात्रा के दौरान चीनी नेताओं के साथ मुख्य तौर पर विचार विमर्श करेंगे।   

चीन से भ्रष्टाचार का विरोध और गरीबी उन्मुलन का अनुभव सीखना चाहता हूँ- इमरान खान

चीन से भ्रष्टाचार का विरोध और गरीबी उन्मुलन का अनुभव सीखना चाहता हूँ- इमरान खान

यात्रा के दौरान इमरान खान 76 सदस्य वाले प्रतिनिधि मंडल का नेतृत्व कर पहले चीन अंतरराष्ट्रीय आयात मेले में भाग लेंगे। पाकिस्तान के 11 उद्यम एक्सपो में हिस्सा लेंगे और अन्य 50 पाक कारोबार चीनी-पाकिस्तानी उद्यमों की आपूर्ति-सप्लाई गतिविधि में भाग लेंगे। इमरान खान ने कहा कि मौजूदा एक्सपो से पाकिस्तान को एक महत्वपूर्ण मौका मिलेगा, पाकिस्तान अपने श्रेष्ठ उत्पादों का प्रदर्शन करेगा, और साथ ही साथ दोनों देशों के बीच व्यापारिक संतुलन भी आगे बढ़ेगा।   

चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे की चर्चा करते हुए इमरान खान ने कहा कि इस गलियारे से पाकिस्तान में बड़ी मात्रा में निवेश हुआ, जिससे पाकिस्तान ने आर्थिक मुसिबतों से छुकटारा पाया। गलियारे का निर्माण लगातार मजबूत हो रहा है, इसके चलते उन्होंने आशा जतायी कि चीन के साथ उद्योग और जन जीवन जैसे क्षेत्रों में सहयोग को गहराएगा।

(श्याओ थांग)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories