पिछले 3 साल में भारत में लगभग 50 हज़ार लोग ट्रेन से टकराकर मरे

2018-10-23 17:08:28
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

वर्ष 2015 से वर्ष 2017 तक पूरे भारत में कुल 49790 लोग ट्रेन से टकराकर मारे गए। हाल ही में भारतीय रेलवे विभाग ने यह आंकड़ा जारी किया।

पीटीआई ने 22 अक्तूबर को रिपोर्ट जारी की कि भारत में रेलवे दुर्घटनाओं में मृत्य दर की कुल संख्या उच्च स्तर पर रहने के मुख्य कारण रेलवे ट्रैक में अवैध रूप से प्रवेश करना और सुरक्षा चेतावनियों का उल्लंघन, मोबाइल फोन जैसे उपकरणों का उपयोग है।

रिपोर्ट में पता चला है कि रेलवे दुर्घटनाओं से बचने के लिये भारतीय रेलवे विभाग ने कुछ कदम उठाये हैं। इन कदमों में यात्रियों के लिये नोटिस  प्रकाशित करना, रेलवे लाइन के पास दीवार और चेतावनी संकेत लगाना और यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले लोगों को सज़ा देना शामिल है।

आंकड़ों के अनुसार इस सितंबर तक वर्ष 2018 में पूरे भारत में रेलवे ट्रैक क्षेत्रों में घुस आने के कारण 1.2 लाख लोगों पर जुर्माना लगाया गया और सजा दी गई। पिछले 9 महीनों में संबंधित जुर्माने की कुल राशि 2.94 करोड़ रुपये रही। पिछले साल कुल 1.7 लाख लोगों को सज़ा दी गई और संबंधित जर्माने की कुल राशि 4.35 करोड़ रुपये पहुंची।

भारत के पंजाब प्रदेश की स्थानीय सरकार के एक अधिकारी ने 20 अक्तूबर को इस बात की घोषणा की कि 19 अक्तूबर की रात को हुई ट्रेन दुर्घटना से 61 लोगों की मौत हो चुकी है। अन्य 70 से अधिक लोग घायल हुए हैं। यह वर्ष 2018 में भारत में सबसे गंभीर रेलवे दुर्घटना है।(हैया)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories