चीन और बांग्लादेश के विश्वविद्यालयों ने पर्यावरण सम्मेलन का आयोजन किया

2018-09-30 16:13:04
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

चीन के युन्नान विश्वविद्यालय और बांग्लादेश के ढाका विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित प्रथम क्षेत्रीय पर्यावरण और पारिस्थितिकी तंत्र का जोखिम प्रबंधन सम्मेलन 29 सितंबर को समाप्त हुआ। चीन, म्यांमार, नेपाल और बांग्लादेश से आए 50 से अधिक विशेषज्ञों और विद्वानों ने पारिस्थितिक पर्यावरण, जलवायु परिवर्तन, प्राकृतिक आपदा जैसे मुद्दों पर विचार-विमर्श किया।

दो दिवसीय सम्मेलन में तीन प्रमुख मुद्दों अर्थात् पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन, पर्यावरण और कृषि, प्राकृतिक आपदा और आपदा प्रबंधन पर ध्यान केंद्रित किया गया। प्रतिभागियों ने नदी किनारे के कटाव, जलविद्युत पर्यावरण पर वैश्विक जलवायु परिवर्तन का प्रभाव, भौगोलिक सूचना प्रणाली प्रौद्योगिकी आदि अनुसंधान के परिणामों पर चर्चा की। कुछ विशेषज्ञों ने बारहमासी धान, पीने के पानी और सीवेज उपचार आदि पर्यावरण रसायन और पारिस्थितिकीय कृषि पर भी विशेष रिपोर्ट दी।

बांग्लादेश स्थित चीनी दूतावास ने इस सम्मेलन का समर्थन किया। ढाका विश्वविद्यालय के अध्यक्ष प्रो. डॉ. मोहम्मद अख्तरज़मान ने कहा कि दोनों विश्वविद्यालय दीर्घकालिक सहयोग बनाए रखते हैं, जो दोनों देशों के बीच सांस्कृतिक और शैक्षणिक आदान-प्रदान को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है।

 (नीलम)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories