चीन व भारत को गरीबी उन्मूलन के संदर्भ में सहयोग करना चाहिये : चीनी राजदूत

2018-08-20 19:39:02
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

भारत स्थित चीनी राजदूत लो चाओ ह्वेई ने हाल ही में सत्तारूद्ध पार्टी बीजेपी के सांसद सदस्य उदित राज के साथ उत्तर दिल्ली के गांव जौंती गांव का दौरा किया।  

विश्व बैंक के अनुसार भारत में जनसंख्या का 70 प्रतिशत भाग गांव में रहती है और 27 करोड़ गांववासियों की औसत दैनिक आय 1.9 अमेरिकी डालर के नीचे है। प्रधानमंत्री मोदी ने वर्ष 2014 में गांवों में गरीबी मिटाने की मुहिम चलायी और हरेक सांसदों को एक गांव गोद लेकर गरीबी उन्मूलन का काम करना चाहिये। जौंती गांव उदित राज जी द्वारा गोद लिया गांव ही है। उन्होंने इस गांव में पेयजल की आपूर्ति, महिलाओं का प्रशिक्षण केंद्र और सांस्कृतिक अवशेषों का जीर्णोद्धार करने की योजनाएं लागू की हैं। चीनी राजदूत लो चाओ ह्वेई ने इस गांव का दौरा करने के दौरान घरों में जाकर इंटरव्यू लिया। गांववासियों ने चीनी अतिथियों का स्वागत किया। लो चाओ ह्वेई ने कहा कि चीन और भारत दोनों बड़े कृषि देश हैं। किसानों का जीवन देश के विकास और सामाजिक सुस्थिरता से संबंधित है। चीन भी भारत की ही तरह ग्रामीण क्षेत्रों का उद्धार करने की योजना लागू की है। बीते छह सालों में चीन में गरीब जनसंख्या लगभग दस करोड़ से घटकर तीन करोड़ तक आ गई है। वर्ष 2020 तक चीन में सभी गरीबी उन्मूलन का लक्ष्य पूरा किया जाएगा। चीन और भारत के बीच गरीबी उन्मूलन के संदर्भ में सहयोग करने की बड़ी संभावना है।   

( हूमिन ) 

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories