मुंबई में सौर ऊर्जा जल पम्पिंग प्रणाली के सौंपने की रस्म आयोजित

2018-06-12 12:54:33
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
1/6

चीन द्वारा चंदे के रूप में प्रदत्त पूंजी से निर्मित सौर ऊर्जा जल पम्पिंग प्रणाली को सौंपने की रस्म पश्चिम भारत के मुंबई शहर में आयोजित हुई। इस परियोजना से एक हज़ार से अधिक स्थानीय नागरिकों को लाभ मिलेगा। मुंबई स्थित चीनी जनरल कांसुलेट ने 11 जून को यह बात कही।   

मुंबई में चीनी कौंसल जनरल चंग शीयुआन ने जानकारी देते हुए कहा कि यह परियोजना चीन-भारत सौर ऊर्जा से जुड़े सृजनात्मक सहयोग से संबंधित गरीबी उन्मूलन परियोजना है। जिसका निर्माण चीन सरकार और एक चीनी कंपनी के चंदे से किया गया। नागपुर शहर की वर्धा कांउटी सरकार ने संबंधित जल परिवहन उपकरणों का निर्माण किया।   

चंग शीयुआन ने कहा कि चीन और भारत के सहयोग और प्रयास से इस परियोजना का निर्माण शुरू से निर्मित होने तक महज छह महीने लगे। प्रणाली के प्रयोग से प्रतिदिन 700 घन मीटर  पानी निकलेगा, जिससे स्थानीय 3 गांवों के 1200 से ज्यादा गांववासियों और 800 से अधिक हेक्टेयर की भूमि को लाभ मिलेगा।

वर्धा कांउटी के प्रमुख शैलेश नवल ने इस परियोजना के निर्माण में चीन द्वारा सहयोग दिए जाने का आभार जताया और कहा कि इस प्रणाली के प्रयोग से कांउटी में पानी के अभाव की स्थिति में कमी आई, और स्थानीय कृषि ढांचे में परिवर्तन आएगा और किसानों की आय में भी इजाफा होगा। 

(श्याओ थांग) 

शेयर