नेपाल और भारत के प्रधानमंत्रियों की बीच वार्ता

2018-05-12 16:42:18
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

    नेपाल के प्रधानमंत्री के.पी. शर्मा ओली और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने काठमांडू में वार्ता की और अरूण-3 जलविद्युत स्टेशन के नींव रखने वाले समारोह में भाग लिया। 

दोनों प्रधानमंत्रियों ने इसके बाद आयोजित न्यूज़ ब्रिफिंग में वार्ता की जानकारी दी। मोदी ने कहा कि यह उनकी तीसरी नेपाल यात्रा है, जिससे यह जाहिर है कि भारत नेपाल के साथ संबंधों को अत्यंत महत्व देता है। भारत अपने पड़ोसी देशों की प्राथमिकता देने वाली विदेश नीति अपनाता है।

ओली ने कहा कि नेपाल और भारत ने पारस्परिक विश्वास के आधार पर संबंधों को मजबूत बनाने का वचन दिया है। दोनों के बीच मतभेद होने से ऐसे संबंधों पर प्रभाव नहीं पड़ेगा।

     रिपोर्ट के अनुसार मोदी ने अपनी यात्रा में नेपाल के साथ किसी भी समझौते पर हस्ताक्षर नहीं किये। पर दोनों ने पाँच सूत्रों पर सहमति संपन्न की है यानी कि भारत नेपाल को बाहर के जलीय व स्थलीय परिवहन करवाने की मदद करेगा, नेपाल-भारत रेल लाइन के निर्माण को बढ़ावा देगा, नेपाल में कैंसर रोग के इलाज में सहायता करेगा, नेपाल-भारत जल परियोजना के सहयोग का विस्तार करेगा, और नेपाल को कृषि विकास की सहायता प्रदान करेगा।

  नरेंद्र मोदी ने 11 मई को नेपाल के जनकपूर पहुंचकर अपनी दो दिवसीय नेपाल यात्रा शुरू की।

 ( हूमिन ) 

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories