अंतरराष्ट्रीय कृषि विकास कोष ने चीन की गरीबी उन्मूलन की उपलब्धियों की प्रशंसा की

2020-09-15 15:13:06
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

चीन स्थित अंतरराष्ट्रीय कृषि विकास कोष (आईएफएडी) के प्रतिनिधि माटेयो मार्चिसियो ने 14 सितंबर को सीएमजी के संवाददाता के साथ एक साक्षात्कार में चीन की गरीबी उन्मूलन की उपलब्धियों की प्रशंसा की ।उन्होंने बताया कि चीन के गरीबी उन्मूलन के अनुभव सीखने के योग्य है ।

आईएफएडी संयुक्त राष्ट्र व्यवस्था में विकासशील देशों को खाद्य और कृषि विकास कर्ज प्रदान करने वाली वित्तीय संस्था है ।चीन स्थित आईएफएडी के प्रतिनिधि माटेयो मार्चिसियो के विचार में गरीबी दूर करने में चीन ने असाधारण सफलता पायी है ।उन्होंने कहा ,चीन ने गरीबी दूर करने में असाधारण उपलब्धि हासिल की है ।इस साल के अंत में चीन अति गरीबी का अंत करेगा ।चीन अन्य देशों के साथ 40 से अधिक वर्षों में गरीबी उन्मूलन का अनुभव साझा कर सकता है ।

मार्चिसियो ने बताया कि चीन ने गरीबी उन्मूलन में बहुआयामी नीतियां अपनायी। एक तरफ चीन ने गरीब क्षेत्रों के बुनियादी संस्थापनों में पूंजी निवेश बढ़ाया और स्थानीय आर्थिक विकास को बढ़ावा मिला ।दूसरी तरफ चीन सरकार ने स्वास्थ्य और शिक्षा आदि क्षेत्रों में बड़ी धन राशि भी लगायी ,जो चीन में गरीबी मिटाने में सफलता पाने का एक मुख्य कारण भी है ।

मार्चिसियो के विचार में चीन की गरीबी उन्मूलन की रणनीति अन्य देशों के लिए अनुकरणीय है ।उन्होंने कहा ,प्रारंभिक काल में चीन समुद्र तटीय विकसित क्षेत्र और मध्य व पश्चिमी गरीब क्षेत्रों के बीच फासला पाटने में लगा हुआ था और मध्य व पश्चिमी क्षेत्र को अधिक समर्थक नीति प्रदान की जाती थी ।समय के साथ चीन मुख्य तौर पर प्रांत विशेष और अंत्यंत गरीब क्षेत्रों को समर्थन देने लगा ।

साक्षात्कार में मार्चिसियो ने चीन में वर्ष 2014 से लागू गरीबी उन्मूलन ई-सूचना फाइल व्यवस्था का खासकर उल्लेख किया ।उन्होंने कहा कि गरीब परिवारों के लिए स्थापित ई फाइल व्यवस्था की स्थापना से चीन के लक्षित गरीबी उन्मूलन कार्य का आधार प्रदान किया है ।उन्होंने बताया ,इस व्यवस्था में चीन के विभिन्न स्तरों की सरकार ने शेष गरीब परिवारों को पहचाना ।सरकारों को पता है कि कौन से लोग गरीब हैं और गरीबी के कारण क्या हैं ।सटीक सूचनाओं के आधार पर सरकार लक्षित नीति लागू कर गरीब परिवारों को मदद दे सकती है ताकि वे जल्दी से गरीबी के चंगुल से निकल सके ।

(वेइतुंग)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories