पशुपालन से रेगिस्तान में गरीब कांउटी ने पाई गरीबी से मुक्ति

2020-09-15 11:39:56
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

शिनच्यांग उइगुर स्वायत्त प्रदेश की मोय्वी कांउटी ताकलिमाकन रेगिस्तान के किनारे स्थित है, जो अति गरीब कांउटियों की राष्ट्रीय सूची में से एक है। इधर के सालों में स्थानीय सरकार ने गरीबी उन्मूलन के लिए कई कदम उठाए, जिनमें गरीब लोगों की विचारधारा को बदलना, रोजगार व उद्यमिता को बढ़ाना और पूंजी का समर्थन करना आदि शामिल हैं। इसके अलावा, पशुपालन की प्रधानता वाले कृषि औद्योगीकरण में अग्रणी उद्यमों को कांउटी में निवेश लगाकर कारखाना स्थापित करने को भी प्रोत्साहन किया।

शिन्चांग मईपीट समूह लिमिटेड उन अद्यमों में से एक है। इस कंपनी के जिम्मेदार व्यक्ति के मुताबिक, व्यापक स्थानीय नागरिकों के गरीबी उन्मूलन और समृद्धि के लिए गत वर्ष मई में कंपनी मोय्वी काउंटी में निवेश कर कारखाना स्थापित करने लगी, चिकन पालने, पशुपालन करने और संबंधित उत्पादों के गहरे प्रोसेसिंग करने की औद्योगिक श्रृंखला कायम हुई। वर्तमान में कंपनी का स्थिर रोजगार वाला मंच स्थापित कर चुका है। कारखाने में 3 हज़ार से अधिक गरीब लोगों को शामिल किया गया, जिससे स्थानीय गरीब परिवारों के लिए रोजगार की समस्या को काफी हद तक समाधान किया गया।

औद्योगिक गरीबी उन्मूलन की प्रगति से लाभ उठाकर वर्तमान में मोय्वी काउंटी में पंजीकृत 63.8 हजार गरीब परिवारों में कम से कम एक परिवार में एक व्यक्ति को रोजगार का पद मिला। बताया गया है कि इस वर्ष के अंत से पहले, पूरी मोय्वी काउंटी गरीबी की दलदल से बाहर निकल जाएगी।

(श्याओ थांग)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories