चीनी विदेश व्यापार जितना सुस्थिर होगा, वैश्विक औद्योगिक श्रृंखला उतनी सुचारू होगी

2020-08-15 17:12:44
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

स्पेनिश मीडिया के मुताबिक अब चीन और यूरोप के बीच व्यापार की बहाली हो गयी है और हरेक हफ्ते में 45 से 60 रेलगाड़ी चीन और यूरोप के बीच आने-जाने लगी हैं।

नये कोरोना वायरस महामारी के प्रभाव से इस वर्ष विश्व भर में व्यापार की भारी गिरावट नजर आयी। लेकिन चीन के विदेशी व्यापार का समग्र प्रदर्शन बाजार की उम्मीदों से बेहतर है। आंकड़े बताते हैं कि चीन का विदेशी व्यापार निर्यात लगातार चार महीनों के लिए बढ़ता रहा और जुलाई माह में इसकी दो अंकों की वृद्धि भी दर्ज हुई। इस के साथ आयात की भी निरंतर वृद्धि हुई। जब विश्व अर्थव्यवस्था गहरी मंदी से ग्रस्त रही और बाजार की मांगों पर प्रभावित रहा, तब चीनी अर्थव्यवस्था का लचीलापन दिखने लगा है।

उधर, एसोसिएटेड प्रेस की रिपोर्ट है कि जुलाई माह के निर्यात आंकड़ों से यह साबित है कि चीन की आर्थिक शक्तियों की बहाली होने लगी है। होलैंड वाणिज्य बैंक की एक विश्लेषण रिपोर्ट के अनुसार जुलाई में चीन के निर्यात में सकल सुधार नजर आया है। न सिर्फ चिकित्सा आपूर्ति का निर्यात, बल्कि इलेक्ट्रॉनिक्स, ऑटोमोबाइल और कपड़ों के निर्यात में भी वृद्धि हुई है। ब्रिटिश अर्थशास्त्र विश्लेषकों का मानना है कि सरकार की प्रोत्साहन नीतियों की वजह से आने वाले महीनों में चीनी अर्थव्यवस्था की बहाली होती रहेगी और इसी दौरान आयात और निर्यात में वृद्धि भी जारी रहेगी।

चीन के आयात और निर्यात में सुधार आने से वैश्विक औद्योगिक श्रृंखला तथा आपूर्ति श्रृंखला की स्थिरता को भी लाभ मिला है। मैकिन्से ग्लोबल इंस्टीट्यूट की एक रिपोर्ट के अनुसार चीन 65 देशों के लिए आयात का सबसे बड़ा स्रोत है और 33 देशों के लिए सबसे बड़ा निर्यात गंतव्य है। महामारी के दौरान पड़ने वाले अभाव से अंतरराष्ट्रीय समुदाय को यह महसूस है कि वैश्विक औद्योगिक श्रृंखला में चीन का स्थान अनिवार्य है। अब चीन में महामारी को नियंत्रित करने के साथ आर्थिक बहाली शुरू होने के चलते वैश्विक औद्योगिक श्रृंखला का संचालन भी सामान्य होने लगा है।

इस वर्ष की दूसरी छमाही में विश्व आर्थिक मंदी का रूझान फिर भी जारी रहा है, और औद्योगिक श्रृंखला और आपूर्ति श्रृंखला के सामने बाधाएं भी वही रहेंगी। इसके प्रति चीनी वाणिज्य मंत्रालय के एक प्रमुख अधिकारी ने हमारे संवाददाता से कहा कि हम राजकोषीय, वित्तीय, बीमा और अन्य नीतियों का कार्यांवयन करेंगे, चीनी कंपनियों को विश्व बाजार में प्रवेश होने के लिए मदद तैयार करेंगे, सीमा-पार ई-कॉमर्स का विस्तार करेंगे और तीसरे अंतर्राष्ट्रीय आयात एक्सपो के सफलतापूर्ण आयोजन के लिए प्रयास करेंगे।

और यह भी ध्यानाकर्षक है कि चीनी राज्य परिषद ने विदेशी व्यापार और विदेशी निवेश को सुस्थिर बनाने के लिए 15 सूत्रीय नीतियां प्रकाशित की हैं, जो निर्यात बीमा, विदेशी व्यापार उद्यमों के वित्तपोषण का समर्थन, लघु, मध्यम और सूक्ष्म विदेशी व्यापार उद्यमों के निर्यात ऋण, क्रॉस-बॉर्डर ई-कॉमर्स, क्रॉस-बॉर्डर रसद और विदेशी गोदाम के निर्माण आदि से संबंधित हैं।

आज चीन में "घरेलू चक्र की प्रधानता, और घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय दोहरे चक्रों की नयी विकास संरचना" कायम की जा रही है। इसी स्थिति में "विदेशी व्यापार को स्थिर करना" का गहरा अर्थ है। उच्च गुणवत्ता वाले आयातित सामान चीनी लोगों में व्यापक लोकप्रिय हैं। इसलिए चीन के आयात में सुधार होने से घरेलू मांग को बढ़ावा मिलेगा और इससे चीनी लोगों की उपभोक्ता जरूरतों को बेहतर ढंग से पूरा किया जाएगा। चीन द्वारा उठाए गए अनेक कदमों से न सिर्फ वैश्विक औद्योगिक श्रृंखला और आपूर्ति श्रृंखला की स्थिरता को बढ़ावा मिलेगा, बल्कि विश्व अर्थव्यवस्था की बहाली में भी गति मिलेगी।

( हूमिन )

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories