अमेरिका दवारा महामारी को लेकर चीन पर आरोप लगाना निराधार है : कानून विशेषज्ञ

2020-06-01 16:54:48
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

कोविड-19 महामारी फैलने के बाद कुछ अमेरिकी राजनीतिज्ञ निरंतर चीन पर आरोप लगाते हैं ,यहां तक कि उन्होंने चीन से इस महामारी की जिम्मेदारी उठाने की मांग की ।हाल ही में अनेक कानून विशेषज्ञों ने चाइना मीडिया ग्रुप के साथ दिये साक्षात्कार में बताया कि चीन पर अमेरिका के आरोपों का कोई कानूनी आधार नहीं है ,जो एकदम राजनीतिक उद्देश्य से प्रेरित है ।

संयुक्त राष्ट्र अंतरराष्ट्रीय कानून समिति के सदस्य हुआंग हुइखांग ने बताया कि आपात महामारी का फैलाव कानून में मानव नियंत्रण के बाहर है ।यह विश्व सार्वजनिक स्वास्थ्य घटना है ।उदाहरण के लिए वर्ष 2009 एच1एन1 वायरस महामारी में अमेरिका वायरस का स्रोत देश तय किया गया और महामारी सब से पहले मैक्सिको में शुरू हुई ।अमेरिका ने मैक्सिको से भुगतान करने की मांग नहीं की और बाकी देशों ने अमेरिका से भुगतान की मांग भी नहीं की ।

हुआंग हुइखांग ने बताया कि कोविड-19 के मुकाबले में चीन की काररवाइयों और अमेरिका में महामारी फैलने से हुए नुकसान के बीच कार्य कारण का संबंध मौजूद नहीं है ।वास्तव में अमेरिका को सब से पहले चीन की महामारी की सूचना मिली थी ।उसे महामारी की कारगर रोकथाम करने का मौका था ।चीन से भुगतान मांगना कुछ अमेरिकी राजनीतिज्ञों की राजनीतिक षड़यंत्र है ।

चीनी राजनीति और कानून विश्वविद्यालय के प्रोफेसर हुओ चंगशिन ने बताया कि कोविड-19 महामारी लेकर चीन पर मुकदमा चलाने का अंतरराष्ट्रीय कानून और अमेरिका के घरेलू कानून का आधार नहीं है और तथ्यों व तर्कों का आधार भी नहीं है ।यह मामला साफ तौर पर राजनीतिक हितों से प्रेरित है ।(वेइतुंग)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories