थाईवान स्वाधीनता का विरोध करता है चीन

2020-05-29 17:30:18
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

29 मई को चीन में राष्ट्रीय विभाजन विरोधी कानून के जारी होने की 15वीं वर्षगांठ के अवसर पर एक बैठक पेइचिंग में बुलायी गयी। चीनी सीपीसी पार्टी की केंद्रीय पोलित ब्यूरो के स्थायी सदस्य, चीनी राष्ट्रीय जन प्रतिनिधि सभा की स्थायी कमेटी के अध्यक्ष ली चानशू ने भाषण में जोर दिया कि चीन थाईवानी स्वाधीनता का दृढ़ विरोध करता है और मातृभूमि के शांतिपूर्ण एकीकरण को दृढ़ता से आगे बढ़ाएगा।

ली चानशू ने बताया कि चाहे थाईवान-स्वतंत्रता तत्व कोई भी चाल क्यों न चलें, वे गैरकानूनी है। चाहे वे विदेशी शक्ति के साथ कैसे प्रदर्शन करें, फिर भी तथ्यों को नहीं बदला जा सकता है कि थाईवान चीन का एक अभिन्न अंग है। शांतिपूर्ण पुनरेकीकरण और एक देश दो व्यवस्थाएं चीन के पुनरेकीकरण को साकार करने का सब से अच्छा तरीका है। एक चीन के सिद्धांत पर कायम रहना मातृभूमि के शांतिपूर्ण पुनरेकीकरण को साकार करने का आधार है।

राष्ट्रीय विभाजन विरोधी कानून का आधार संविधान है, जो एक देश दो व्यवस्थाएं और देश की शांतिपूर्ण पुनरेकीकरण प्रणाली को आगे बढ़ाने का एक अहम भाग है। यह कानून 2005 के 14 मार्च को जारी किया गया है।

(श्याओयांग)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories