चीन के खुलेपन से विश्व की आर्थिक बहाली को मदद मिलेगी

2020-05-23 20:42:22
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

22 मई को पेइचिंग में आयोजित चीनी राष्ट्रीय जन प्रतिनिधि सभा में सुनायी गयी सरकार की कार्य रिपोर्ट के अनुसार चीन अविचल तौर पर खुलेपन अपनाता रहेगा और उत्पादन श्रृंखला तथा आपूर्ति श्रृंखला को स्थिर करने की कोशिश करेगा। चीन के खुलेपन के संकेत से विश्व में आर्थिक बहाली के विश्वास को बढ़ाया जाएगा।

सरकार की कार्य रिपोर्ट के अनुसार चीन विदेशी व्यापार की स्थिरता को बढ़ावा देने, विदेशी पूंजी का उपयोग, "बेल्ट एंड रोड" का निर्माण और व्यापार और निवेश उदारीकरण और सुविधा को बढ़ावा देने में जोर देगा। विश्व में संरक्षणवाद के उभरने के प्रति चीन दृढ़ता से बहुपक्षीय व्यापार प्रणाली, क्षेत्रीय आर्थिक सहयोग संधि हस्ताक्षरण, चीन-जापान-दक्षिण कोरिया स्वतंत्र व्यापार वार्ता तथा चीन-अमेरिका व्यापार वार्ता के समझौते का कार्यांवयन बढ़ाएगा। चीन के इन कदमों से महामारी की स्थितियों में विश्व भर में उत्पादन श्रृंखला तथा आपूर्ति श्रृंखला को बनाये रखने के लिए महत्वपूर्ण है।

वर्तमान में महामारी की वजह से विश्व में अनेक कारोबारों को अनुबंधनों को रद्द करने, अंतर्राष्ट्रीय रसद खराब बनने और व्यापार बाधाओं में वृद्धि होने की समस्याओं का सामना करना पड़ा है। उधर, अमेरिका के कुछ राजनीतिज्ञों ने महामारी रोकथाम का राजनीतिकरण कायम कर "औद्योगिक श्रृंखला को चीन से निकालने" को बढ़ावा दिया। लेकिन चीन का विश्व कारखाना बनना पिछले कई दशकों में वैश्विक औद्योगिक श्रृंखला के इष्टतम आवंटन का परिणाम है। महामारी का प्रभाव अल्प समय के लिए मौजूद रहेगा। आर्थिक वैश्विकरण फिर भी जारी रहेगा।

बीते चालीस सालों में आर्थिक रुपांतर करने में प्राप्त अनुभव के मुताबिक चीन दृढ़ता से रुपांतर के माध्यम से आर्थिक मुश्किलों को दूर करने पर डटा रहेगा। इस वर्ष के प्रथम तिमाही में चीन में किये गये विदेशी निवेश की मात्रा भी 33.6 अरब अमेरिकी डॉलर तक जा पहुंची है। टेस्ला, एक्सन मोबिल, और बीएएसएफ आदि बहुराष्ट्रीय कंपनियों ने चीन में अपने नये-नये उद्योग खोलकर भारी निवेश किया है। चीनी औद्योगिक और सूचना मंत्रालय के अनुसार 40 प्रतिशत विदेशी कारोबारों ने चीन में अधिक निवेश करने की उम्मीद जतायी है।

इसी स्थिति में इस साल चीन सरकार की कार्य रिपोर्ट के संकेत से विदेशी निवेशकों को प्रेरित किया जाएगा। भविष्य में चीन बाजार रुपांतर को आगे बढ़ावा देगा और विदेशी निवेश कानून के मुताबिक उचित प्रतियोगिता बाजार का माहौल बनेगा। साथ ही चीन अपने बाजार के सहारे वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला और उद्योग श्रृंखला की सुरक्षा को बनाये रखने तथा विश्व अर्थव्यवस्था की बहाली में गति देने का निरंतर प्रयास करेगा।

( हूमिन )

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories