कोविड-19 के इलाज में चीनी परंपरागत चिकित्सा व दवा का स्पष्ट प्रभाव दिखा

2020-05-20 14:34:36
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
3/3

इस बार चीन में कोविड-19 महामारी की रोकथाम में चीनी परंपरागत चिकित्सा व दवा का प्रभाव बहुत स्पष्ट दिखा है। जिसने महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है। असंपूर्ण आंकड़ों के अनुसार मध्य अप्रैल तक सारे चीन में कोविड-19 के पुष्ट मामलों में 74 हजार से अधिक रोगियों ने चीनी परंपरागत चिकित्सा व दवा का प्रयोग किया है। यह संख्या सभी रोगियों के 91.5 प्रतिशत तक पहुंच गयी। उन में हूपेई प्रांत में 60 हजार से अधिक रोगियों ने चीनी परंपरागत चिकित्सा व दवा का प्रयोग किया है। नैदानिक प्रभावकारिता से यह जाहिर हुआ है कि चीनी परंपरागत चिकित्सा व दवा की प्रभावशीलता दर 90 प्रतिशत से अधिक है। इस उल्लेखनीय परिणाम पर देश-विदेश का ध्यान केंद्रित हुआ है, और सकारात्मक मूल्यांकन भी मिला।

गौरतलब है कि ये उपलब्धियां न सिर्फ़ चीन की हजारों वर्षों की परंपरागत चिकित्सा संस्कृति का फल है, बल्कि इस में विज्ञान व तकनीक तरीके और डेटा विश्लेषण का प्रयोग भी किया गया है। चीनी परंपरागत चिकित्सा व दवा की प्रभावशीलता आधुनिक नैदानिक चिकित्सा डेटा से पुष्ट की गयी है।

उन के अलावा इस बार महामारी की रोकथाम में सुपर कंप्यूटर और सिंड्रोम महामारी विज्ञान सर्वेक्षण एपीपी आदि वैज्ञानिक व तकनीकी तरीकों का व्यापक प्रयोग भी किया गया है।

चंद्रिमा

शेयर