कोविड-19 को लेकर डब्ल्यूएचओ को प्रस्तुत प्रस्ताव मसौदे के पारित होने की उम्मीद - चीन

2020-05-19 19:53:45
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

चीन ने विश्व स्वास्थ्य संगठन को कोरोनावायरस निमोनिया की महामारी से जुड़े प्रस्ताव मसौदे संबंधी विचार विमर्श में सक्रिय रूप से भाग लिया। आशा है कि इस प्रस्ताव को 73वीं विश्व स्वास्थ्य महासभा में पारित होगा और इसका व्यापक व सटीक तौर पर कार्यान्वयन किया जाएगा। चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता चाओ लिच्येन ने 19 मई को पेइचिंग में आयोजित नियमित संवाददाता सम्मेलन में यह बात कही।

जानकारी के मुताबिक, यूरोपीय संघ, रूस, भारत, जापान, ब्राजिल और आस्ट्रेलिया समेत 120 से अधिक देशों ने विश्व स्वास्थ्य महासभा में कोविड-19 महामारी के प्रस्ताव मसौदे को सौंपा।

चीनी प्रवक्ता ने कहा कि वर्तमान में प्रस्ताव ने डब्ल्यूएचओ की कुंजीभूत नेतृत्वकारी भूमिका को माना और समर्थन किया। प्रस्ताव में सदस्य देशों से भेदभाव और बदनाम वाली कार्रवाई बंद करने, गलत और झूठी सूचना पर हमला करने, नैदानिक साधनों, उपचार तरीकों, दवाइयों, टीके तथा जानवर से वायरस के स्रोत वाले अनुसंधान में सहयोग मजबूत करने की अपील की गई। इसके साथ ही महामारी के मुकाबले में डब्ल्यूएचओ के कार्य का समय पर आकलन किया जाए।

प्रवक्ता चाओ ने कहा कि उपरोक्त विषय चीन के रूख के अनुकूल है। यह अधिकांश देशों की समान अभिलाषा भी है। चीन ने संबंधित प्रस्ताव मसौदे को प्रस्तुत करने में भाग लिया। चीन को आशा है कि प्रस्ताव सलाह-मशविरे के माध्यम से 73वीं विश्व स्वास्थ्य महासभा में पारित होगा। इसके साथ ही प्रस्ताव के व्यापक तथा सटीक तौर पर कार्यान्वयन किया जाएगा।

(श्याओ थांग)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories