सूचना:चाइना मीडिया ग्रुप में भर्ती

अमेरिका चीन के आंतरिक मामले में हस्तक्षेप कर चीन को चुनौती देना चाहता है

2019-12-02 11:09:02
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

कुछ देशों की हस्तियों ने बताया कि अमेरिका द्वारा तथाकथित हांगकांग के मानवाधिकार और लोकतंत्र विधेयक पर हस्ताक्षर किया जाना मानवाधिकार और लोकतंत्र के बहाने से चीन के आंतरिक मामले में हस्तक्षेप कर चीन के विकास को नियंत्रित करना चाहता है। यह चीनी जनता के प्रति गंभीर उकसावे वाली हरकत है, जिससे अमेरिका के प्रभुत्व का मूल स्वरूप ज़ाहिर होता है।

फ्रांसीसी लेखक माक्सिम विवास ने बताया कि यह स्पष्ट है कि अमेरिका चीन के आंतरिक मामले में दखलदाजी कर रहा है ।इस पर फिर बल देने की जरूरत है कि हांगकांग चीन का है।

जर्मनी के हेसन राज्य के अंतरराष्ट्रीय मामले के पूर्व निदेशक डॉक्टर मिचेल बोर्चेमन ने बताया कि हांगकांग से संबंधित विधेयक उद्दंडतापूर्ण और पाखंडी है। अमेरिका को दूसरे देश के मामले में टाँग लगाना पसंद है।

इटली के आधुनिक चीन अध्ययन केंद्र के वरिष्ठ अध्ययनकर्ता और लुयिस युनिवर्सिटी ऑफ़ रोम के प्रोफेसर सिलविया मेनेगाजी ने बताया कि हांगकांग मुद्दे के लिए वर्तमान में सबसे नाजुक कार्य हिंसा रोकना है। दूसरे देश के आंतरिक मामले में हस्तक्षेप नहीं करना अंतरराष्ट्रीय संबंधों का एक बुनियादी नियम है। (वेइतुंग)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories