चीनी विदेश मंत्रालय की स्थापना की 70वीं वर्षगांठ

2019-11-08 17:32:55
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

8 नवम्बर को चीनी विदेश मंत्रालय की स्थापना की 70वीं वर्षगांठ है। नये ऐतिहासिक शुरुआती पायदान पर काबिज चीनी विशेषता वाली विदेश कूटनीति शी चिनफिंग की वैदेशिक कूटनीतिक विचारधारा का पालन करते हुए शांति, विकास, सहयोग और उभय जीत वाले झंडा फहराते चीनी राष्ट्र के महान पुनरुत्थान वाले चीन स्वप्न को बखूबी अंजाम देने क लिए आगे बढेगी, मानव जाति के साझे भाग्य समुदाय की स्थापना को आगे बढ़ाने में नया योगदान देगी। चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता कंग श्वांग ने 8 नवम्बर को यह बात कही।

जानकारी के मुताबिक, 8 नवम्बर 1949 को चीनी विदेश मंत्रालय की स्थापना का सम्मेलन पेइचिंग में आयोजित हुआ, तत्कालीन प्रधानमंत्री और विदेश मंत्री चो अनलाई ने सम्मेलन में भाग लिया और महत्वपूर्ण भाषण दिया।

प्रवक्ता कंग श्वांग ने कहा कि पिछले 70 सालों में चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के दृढ़ नेतृत्व में चीनी विदेश कूटनीति में फलदायी उपलब्धियां प्राप्त हुईं और देसी-विदेशी समर्थन व सम्मान हासिल हुआ। 70 सालों में चीनी कूटनीति ने देश की संप्रभुता, सुरक्षा और विकास हित की दृढ़ता के साथ रक्षा की, सुधार और खुलेपन की प्रक्रिया में सक्रिय सेवाएं दीं, विश्व में शांति विकास को लगातार आगे बढ़ाया, चीन और विश्व के बीच संबंध को गहन रुप से बदला, अंतरराष्ट्रीय समुदाय में चीन का स्थान उन्नत किया और देश के विकास के लिए बेहतर बाहरी वातावरण तैयार किया।

कंग श्वांग के मुताबिक, नये ऐतिहासिक शुरुआती पायदान पर काबिज चीनी विदेश कूटनीति वैश्विक साझेदारी संबंध की स्थापना, वैश्विक शासन में सक्रिय रूप से भागीदारी, चीनी राष्ट्र के महान पुनरुत्थान वाले चीन स्वप्न की प्राप्ति और मानव जाति के साझे भाग्य समुदाय की स्थापना को आगे बढ़ाने में नया योगदान देने को तैयार है।

(श्याओ थांग)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories