चीन : 2022 शीतकालीन ओलंपिक से जुड़े डोपिंग विरोधी कार्य सुव्यवस्थित

2019-07-18 16:31:37
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
1/2

चीन की राजधानी पेइचिंग में हाल ही में पहला अंतरराष्ट्रीय डोपिंग विरोधी कार्य की संगोष्ठी आयोजित हुई। विश्व के 33 देशों में डोपिंग विरोधी संगठनों के 78 प्रतिनिधियों ने भाग लिया। बताया गया है कि चीन में साल 2022 शीतकालीन ओलंपिक से जुड़ी तैयारियां और डोपिंग विरोधी कार्य सुव्यवस्थित रूप से किये जा रहे हैं।

24वां शीतकालीन ओलंपिक खेल समारोह साल 2022 में पेइचिंग और हपेई प्रांत के च्यांगच्याखो शहर में आयोजित होगा। मौजूदा संगोष्ठी में डोपिंग विरोधी क्षेत्र में चीनी और विदेशी संगठनों के बीच आदान-प्रदान व सहयोग मजबूत किया गया।

2022 शीतकालीन ओलंपिक संयोजन समिति के डोपिंग विरोधी विभाग की जिम्मेदार व्यक्ति लिन लिंग ने जानकारी देते हुए कहा कि चीन शीतकालीन ओलंपिक खेल समारोह की तैयारियों पर बड़ा महत्व देता है, ताकि एक शानदार, अद्भूत और श्रेष्ठ ओलंपिक खेल समारोह का आयोजन किया जा सके। उनके मुताबिक, पेइचिंग शीतकालीन ओलंपिक हरित, साझी, खुलेपन और स्वच्छता वाली विचारधारा अपनाएगा। आशा है कि ओलंपिक खेल से युवा लोगों का सपना साकार होगा, नागरिकों के जीवन में शीतकालीन खेल प्रवेश होगा, वैज्ञानिक तकनीकी विकास में प्रगति मिलेगी और विश्व में ज्यादा मेलमिलाप होगा।

चीन डोपिंग के प्रयोग को कतई स्वीकार नहीं करता। चीन ने कई बार कहा कि बर्फ़ की ही तरह एक स्वच्छ और शुद्ध शीतकालीन ओलंपिक खेल समारोह का आयोजन करेगा। विश्व डोंपिंग विरोधी एजेंसी के अध्यक्ष क्रेग रीदिई ने चीन में डोपिंग विरोधी कार्य की प्रशंसा करते हुए कहा कि चीन का डोपिंग विरोधी कार्य अच्छे से अच्छा हो रहा है। लगता है कि चीन ज्यादा से ज्यादा अंतरराष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन कर सकेगा। चीन में पूरे देश की शक्ति से ओलंपिक खेल समारोह के आयोजन का समर्थन किया जा रहा है। वर्तमान में चीन विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं में सही नियम अपनाता है, इसी क्षेत्र में इस देश ने प्रगति हासिल की है।

(श्याओ थांग)

शेयर