चीनी कम्युनिस्टों का प्रारंभिक विचार और मिशन

2019-06-28 19:11:39
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
1/6

इस साल 1 जुलाई को चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की 98वीं जयंती है। कई दशक पहले चीनी कम्युनिस्ट पार्टी दर्जन व्यक्तियों से नौ करोड़ सदस्य प्राप्त विश्व में सबसे बड़ा राजनीतिक दल बना है और चीनी कम्युनिस्ट पार्टी ने जनता का नेतृत्व कर अनेक कठिनाइयों को दूर कर चमत्कार पैदा किया है।

वर्ष 2017 में पार्टी की 19वीं राष्ट्रीय कांग्रेस की समाप्ति पर शी ने पोलिट ब्यूरो के सभी सदस्यों के साथ शांघाई में स्थित पार्टी की प्रथम कांग्रेस के स्थल का दौरा किया। इस यात्रा के दौरान शी ने पार्टी के सभी सदस्यों से प्रारंभिक विचार और मिशन को मन में रखकर काम करने का आह्वान किया। पार्टी की 19वीं राष्ट्रीय कांग्रेस की रिपोर्ट में शी चिनफिंग ने स्पष्ट रूप से यह बताया कि चीनी कम्युनिस्टों का प्रारंभिक विचार और मिशन यही होता है कि हम चीनी जनता के कल्याण और चीनी राष्ट्र के पुनरुत्थान के लिए काम करेंगे। पार्टी के सभी कामरेडों को हमेशा जनता के साथ समान भाग्य में रहकर अविचल तौर पर चीनी राष्ट्र के पुनरुत्थान के लक्ष्य के लिए अभियान चलाना चाहिये।

महासचिव शी चिनफिंग हमेशा "जनता का सेवक" के नाम पर अपना परिचय देते हैं। वर्ष 2014 में रूसी टीवी को इंटरव्यू देते हुए शी ने कहा कि जनता ने मुझे राष्ट्र के नेता के स्थान पर रखा है, मुझे सदैव जनता को दिल के सर्वोच्च स्थान पर रखना चाहिये। वर्ष 2018 के मार्च में एक बार फिर राष्ट्रपति बनने के बाद शी चिनफिंग ने कहा कि देश का सभी अधिकार जनता का ही होता है। हमें जरूर ही जनता के रुख पर डटा रहना चाहिये। शी चिनफिंग ने हमेशा "जनता केंद्रित" का विचार देश के शासन के कार्यों में अपनाया है। पार्टी की 18वीं राष्ट्रीय कांग्रेस से चीन सरकार ने जन जीवन से जुड़े अनेक कदम उठाये हैं। इधर के वर्षों में शी ने देश के अनेक गरीब क्षेत्रों का दौरा किया और स्थानीय लोगों के साथ गरीबी उन्मूलन के ठोस कदमों पर विचारों का आदान प्रदान किया। शी ने कहा कि समाजवाद का उद्देश्य सभी जनता को सुखमय जीवन दिलाना है। सुखमय जीवन के निर्माण में किसी भी परिवार या व्यक्ति को पीछे नहीं छोड़ा जाएगा।

शेयर