रेगिस्तान में वन रक्षकः पर्यावरण सुधार के लिये हमें एक साथ करना होगा प्रयास

2019-04-30 17:23:08
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
4/6

शिन्चयांग उत्पादन तथा निर्माण कोर का नंबर 150 समूह चीन के दूसरे सबसे बड़े रेगिस्तान गुरबानटॉगगुट रेगिस्तान के किनारे पर स्थित है। जो तीन तरफ से रेत से घिरा हुआ है, जिसे “रेत सागर प्रायद्वीप”के नाम से जाना जाता है। 150 समूह पारिस्थितिक अवधारणा के आधार पर पारिस्थितिकी पर्यावरण के निर्माण को मजबूत करने में जुटे हैं। अब तक यहां पर 20 हजार हेक्टेयर का "ग्रीन बैरियर" पारिस्थितिक संरक्षण स्थापित हो चुका है। मा श्याओ ह्वा, ये हरित समुद्र के रक्षकों में से एक हैं।

मा श्याओ ह्वा,यहां के एक साधारण वन रक्षक हैं। वर्ष 1995 में अपने पिता जी के कहने पर उन्होंने यह काम करना शुरु किया। भीड़ से दूर रहकर, अपने प्रियजनों से दूर रहकर, साल दर साल, मा श्याओ ह्वा ने इस रेगिस्तान पर हरियाली उम्मीद लायी। उन्होंने कहा कि अगर हम एक साथ मिलकर कोशिश करें,तो हमारे चीन के पर्यावरण की स्थिति जरूर बेहतर होगी।

अंजली

शेयर