शी चिनफिंग ने मिस्र, मलेशिया, पापुआ न्यू गिनी, इंडोनेशिया व संयुक्त अरब अमीरात के नेताओं से भेंट की

2019-04-26 11:29:25
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
9/10

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 25 अप्रैल को पेइचिंग के जन वृहद भवन में कई देशों के नेताओं से भेंट की।

मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल सीसी से भेंट करते समय शी चिनफिंग ने कहा कि मिस्र अफ़्रीकी संघ का वर्तमान अध्यक्ष देश है। राष्ट्रपति सीसी ने चीन आकर दूसरे एक पट्टी एक मार्ग अंतर्राष्ट्रीय सहयोग शिखर मंच में भाग लिया। इससे जाहिर हुआ है कि मिस्र सक्रिय रूप से एक पट्टी एक मार्ग के निर्माण में भाग लेना चाहता है। इसके साथ ही यह बात भी प्रतिबिंबित हुई है कि अफ़्रीकी देश आपसी लाभ, दोनों जीत और समान विकास प्राप्त करने की कोशिश कर रहे हैं। चीन मिस्र के साथ संबंधों को मजबूत करने पर बड़ा ध्यान देता है। दोनों पक्षों को राजनीतिक आपसी विश्वास को मजबूत करते हुए लगातार एक दूसरे के केंद्रीय हितों व महत्वपूर्ण मामलों पर आपस में समर्थन देकर सहयोग देना चाहिये।

मलेशिया के प्रधानमंत्री महाथिर बिन मोहमद से भेंट करते हुए शी चिनफिंग ने कहा कि चीन व मलेशिया के बीच राजनयिक संबंध स्थापना के बाद 45 वर्षों में आधा समय महाथिर के कार्यकाल का है। इसलिये आपने दोनों देशों के संबंधों के विकास के लिये महत्वपूर्ण योगदान दिया है। वर्तमान में दोनों देशों के संबंध इतिहास की एक नयी शुरूआत कर रहे हैं। हम एक पट्टी एक मार्ग के मौके से लाभ उठाकर चीन-मलेशिया संबंधों का सुन्दर भविष्य बनाएंगे।

पापुआ न्यू गिनी के प्रधानमंत्री पीटर चार्ल्स पाइरे ओनील से भेंट के दौरान शी चिनफिंग ने कहा कि वर्ष 2018 के नवंबर में मैंने पापुआ न्यू गिनी की राजकीय यात्रा की, और चीन के साथ राजनयिक संबंधों की स्थापना करने वाले आठ प्रशांत द्वीप देशों के नेताओं से भेंट की। वर्तमान में चीन व पापुआ न्यू गिनी के संबंध इतिहास में सब से अच्छे दौर में हैं। चीन ने पापुआ न्यू गिनी सरकार द्वारा चीन के केंद्रीय हितों से जुड़े मामलों पर चीन को दिये गये दृढ़ समर्थन की उच्च प्रशंसा की।

इंडोनेशिया के उप राष्ट्रपति युसुफ़ काल्ला से मुलाकात में शी चिनफिंग ने कहा कि 21वीं शताब्दी के समुद्री रेशम मार्ग का सुझाव मैंने इंडोनेशिया की यात्रा करते समय पेश किया है। हाल के कई वर्षों में दोनों देशों ने एक पट्टी एक मार्ग के निर्माण से लाभ उठाकर द्विपक्षीय संबंधों में नयी प्रगति हासिल की। विभिन्न क्षेत्रों के सहयोग में स्पष्ट उपलब्धियां प्राप्त हुई हैं।

इसके अलावा शी चिनफिंग ने संयुक्त अरब अमीरात के उप राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री व दुबई के प्रमुख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतौम से भी भेंट की।

चंद्रिमा

शेयर