समुद्री साझे भाग्य वाले समुदाय पर चर्चा की गयी

2019-04-25 15:03:48
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
1/5

चीनी जन मुक्ति सेना की नौसेना की स्थापना की 70वीं वर्षगांठ के अवसर पर चीन ने कई देशों की नौसेना की गतिविधियों का आयोजन किया। मौके पर चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने विदेशी प्रतिनिधि मंडलों के प्रधानों से मुलाकात करते समय समुद्री साझे भाग्य वाले समुदाय की विचारधारण को पेश किया, जिससे देश विदेश की नौसेना की गर्म चर्चा की गयी।

24 अप्रैल को चीन के छिंगताओ में आयोजित एक उच्च स्तरीय संगोष्ठी में 61 देशों के प्रतिनिधि मंडलों के प्रधानों ने मानव साझे भाग्य वाले समुदाय और समुद्र और समुद्री खतरों की चुनौती का साथ निपटारा करने, व्यापक विचार-विमर्श, साझा सहयोग और सहभागी लाभ जैसे मुद्दों पर गहन रूप से विचार विमर्श किया।

चीनी नौसेना के कमांड शन चिंगलोंग ने अपने भाषण में कहा कि समुद्री साझे भाग्य वाले समुदाय की रचना समुद्री शांति और समृद्धि की सही दिशा है। विभिन्न नौ सेनाओं को हाथ मिलकर समुद्री शांति की रक्षा करनी चाहिए, समुद्री सुरक्षा की समान खोज करनी चाहिए, समुद्री समृद्धि को आगे बढ़ाना चाहिए, समुद्री वातावरण का निर्माण करना चाहिए और समुद्री संस्कृति का पुनरुत्थान करना चाहिए।

शी चिनफिंग के समुद्र संबंधी विचारधारण की चर्चा में ग्रीक नौसेना के चीफ़ ऑफ़ स्टाफ़ निकोलाओस त्सोमिस ने बहुत अच्छी बात कही। उन्होंने कहा कि हमें संयुक्त राष्ट्र समुद्र कानून संधि का पालन करना चाहिए, ताकि सभी विवादों का वार्ता के ज़रिए हल किया जा सके।

(श्याओयांग)

शेयर