तिब्बत में लोकतांत्रिक सुधार की 60वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में सभा आयोजित

2019-03-29 10:44:25
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn
2/6

तिब्बत में लोकतांत्रिक सुधार की 60वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में सभा 28 मार्च को ल्हासा में आयोजित हुई। दस हजार से अधिक लोग पोताला पैलेस के सामने चौक पर आयोजित इस समारोह में उपस्थित हुए।

सन 1959 की 28 मार्च को चीनी राज्य परिषद ने तिब्बती स्थानीय सरकार और इस के अधीन सेना, चर्च और जेल, जो सैकड़ों वर्षों तक तिब्बती जनता के खिलाफ अत्याचार कर रहे थे, को भंग करने का आदेश दिया। साथ ही पुराने युग की कानूनी व्यवस्था तथा इस की बर्बर सज़ा को रद्द किया और दस लाख भूदासों की मुक्ति घोषित की। इससे तिब्बती जनता के समाजवादी मार्ग पर आगे बढ़ने का नया अभियान शुरू हुआ।

तिब्बत स्वायत्त प्रदेश की तिब्बती शाखा के सचिव वू ईंग च्ये ने समारोह में कहा कि लोकतांत्रिक सुधार से राजनीतिक और धार्मिक एकता वाली सामंती भूदास व्यवस्था को खत्म किया गया, सामंती आध्यात्मिक संस्कृति की हथकड़ी तथा सामंती राजनीतिक उत्पीड़न को पूर्ण रूप से तोड़ किया गया। यह तिब्बत के इतिहास में सबसे व्यापक, गहन और महान सामाजिक परिवर्तन था जिससे तिब्बती इतिहास का नया युग शुरू हुआ।

( हूमिन )

शेयर