टिप्पणीः इस साल अहम संघर्ष करेगा चीन

2019-03-20 15:59:30
Comment
शेयर
शेयर Close
Messenger Messenger Pinterest LinkedIn

पिछले हफ्ते संपन्न चीन के दो सत्रों ने चीनी लोगों की नयी संघर्ष प्रक्रिया शुरू की है। गरीबी उन्मूलन कार्य निसंदेह इस साल चीन का अहम संघर्ष होगा। 2020 में चीन में गरीबी उन्मूलन के लक्ष्य को साकार करने के लिए सिर्फ दो साल बाकी हैं। ऐसे में यह साल बहुत महत्वपूर्ण साल होगा।

गरीबी उन्मूलन कार्य हालिया दुनिया के सामने मौजूद सबसे बड़ी वैश्विक चुनौती है। इस क्षेत्र में चीन ने उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल की हैं। विश्व बैंक के आंकड़े बताते हैं कि दुनिया में गरीबी से छुटकारा पाने वाले हर सौ व्यक्तियों में 70 से अधिक चीन के हैं। 1978 से 2017 तक चीन ने सुधार व खुलेपन और आर्थिक विकास से 70 करोड़ से ज्यादा आबादी को अंतर्राष्ट्रीय गरीबी रेखा के मापदंड से छुटकारा दिलाया है। पिछले 40 सालों में इस संदर्भ में चीन की योगदान दर 70 प्रतिशत से अधिक रही है।

लेकिन इतिहास, प्रकृति, आबादी और क्षेत्रीय आर्थिक विकास के असंतुलन आदि अनेक तत्वों से चीन में और एक करोड़ से अधिक गरीब आबादी है। चीनी राष्ट्रीय सांख्यिकी के आंकड़े बताते हैं कि गत वर्ष के अंत में चीन के गांवों में 1.66 करोड़ गरीब लोग हैं। चीन सरकार ने इस साल और 1 करोड़ से ज्यादा गरीब आबादी को कम करने का वचन दिया।

तो चीन इस संघर्ष में कैसे विजय हासिल करेगा?चीन गरीबी उन्मूलन कार्य को ग्रामीण क्षेत्र की पुनरुत्थान रणनीति से जोड़ कर आगे विकास करेगा। विश्व का सब से बड़ा विकासशील देश होने के नाते चीन ने गरीबी उन्मूलन कार्य में उपलब्धियां हासिल कीं। चीन सरकार ने 2020 में गरीबी उन्मूलन लक्ष्य को साकार करने की योजना बनायी, जिससे एक बड़े देश का कर्तव्य प्रतिबिंबित होता है।

2015 गरीबी उन्मूलन और विकास के उच्च स्तरीय मंच में चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने थीम भाषण देकर वैश्विक गरीबी उन्मूलन प्रक्रिया को तेज करने की पहल पेश की। उन्होंने कहा कि आगामी 15 साल चीन और अन्य विकासशील देशों के लिए विकास का अहम कार्य है। चीन विभिन्न पक्षों के साथ वैश्विक विकास साझेदारी संबंधों का विकास करेगा, दक्षिण उत्तर सहयोग को आगे बढ़ाएगा और दक्षिण दक्षिण सहयोग को मजबूत करेगा। इस साल चीन के दो सत्रों में दी गयी सूचना से दुनिया फिर एक बार चीन के संकल्प को देखती है। गरीबी उन्मूलन के संघर्ष में विजय पाना जनता के प्रति चीन का वायदा दिखाता है। साथ ही यह विश्व को चीन द्वारा दिया गया नया योगदान भी है।

(श्याओयांग)

शेयर

सबसे लोकप्रिय

Related stories